CM के बेटे नकुलनाथ ने बजाया ढोल, आदिवासियों संग जमकर थिरके कांग्रेस नेता, देखें वीडियो

nakulnath-reached-tribal-area-dhagdiamal-for-public-meeting-and-play-drum-in-mp

छिंदवाड़ा।

लोकसभा चुनाव में छिंदवाड़ा से सीएम कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ का नाम फायनल माना जा रहा है,हालांकि अभी औपचारिक ऐलान होना बाकी है। लेकिन इससे पहले नकुल लगातार छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र के दौरे कर रहे है और अपनी सक्रियता बढाने में लगे हुए है। मंगलवार को वे धगड़ियामाल में सभा करने पहुंचे थे और आदिवासियों के लिए जमकर ढोल बजाया। जैसे ही नकुल ने ढोल बजाया पांढुर्ना विधायक नीलेश उइके और पूर्व विधायक जतन उइके समेत अन्य आदिवासी जमकर नाचे। करीब 10 मिनट तक नकुल श्रीहंस नवयुवक मंडल की प्रस्तुतियों में शामिल रहे।

दरअसल, नकुलनाथ छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र में सभा करने पहुंचे थे, जहां उनके स्वागत में आदिवासी नृतक दल ने प्रस्तुति दी। नकुल भी इसमे शामिल हो लिए, तभी स्थानीय नेताओं के कहने पर उन्होंने ढोल गले में पहना और बजाना शुरु कर दिया। नकुल को ढोल बजाते देख आदिवासी थिरक उठे और झूमने लगे। यह सब देख पांढुर्ना विधायक नीलेश उइके और पूर्व विधायक जतन उइके भी अपने आप को रोक नही पाए और नाचने लगे। इस दौरान नकुल ने सभा को संबोधित करते हुए कहा हमारी प्राथमिकता बेरोजगार और युवाओं के हाथों को काम और किसानों को उनकी फसलों के सही दाम है।  हमारी संस्कृति हमारा मान,सम्मान और पहचान आदिवासी है। 

खासबात यह थी कि मंडल द्वारा प्रस्तुत नृत्य व गीत में गरीब आदिवासी किसानों का कर्जा माफ  किए जाने पर गांव में खुशी के माहौल का चित्रण किया गया था। युवा नेता नकुलनाथ ने मंगलवार को जिले के तीन विकासखंडों के 6 बड़े ग्रामों में जनसभाओं को संबोधित किया। वे बिछुआ के ग्राम किसनपुर व चकारा, मोहखेड़ के ग्राम धगड़ियामाल व देवगढ़ और चौरई के केवलारीसंभा व समसवाड़ा पहुंचे थे।