महिला अधिकारी 30 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

Woman-officer-takes-thirty-thousand-bribe-caught-by-jabalpur-lokayukt-in-chhindwara-

छिंदवाड़ा । सरकारी दफ्तरों में रिश्वत लेने की होड़ लगी है, बिना इसके काम करना कुछ शासकीय कर्मियों को रास नहीं आता| महिलाएं भी रिश्वत लेने में पीछे नहीं हैं| ताजा मामला छिंदवाड़ा से है जहां एक महिला अधिकारी को लोकायुक्त टीम ने रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है| जबलपुर लोकायुक्त टीम ने बुधवार को कार्रवाई करते हुए उद्यानिकी विस्तार अधिकारी को 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। इस महिला अधिकारी ने ट्रैक्टर एजेंसी संचालक से ट्रैक्टर की सबसिडी दिलाने के एवज में रिश्वत मांगी थी। 

जानकारी के मुताबिक उद्यानिकी विभाग की विस्तार अधिकारी परिष्ता धुर्वे को ट्रैक्टर एजेंसी संचालक पवन वर्मा से 30 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। महिला अधिकाइर ने ट्रैक्टर एजेंसी संचालक वर्मा से प्रत्येक ट्रैक्टर पर 10 प्रतिशत के हिसाब से दो ट्रैक्टरों की सबसिडी दिलाने 30 हजार रुपए रिश्वत मांगी थी। शासन की योजना के तहत उद्यानिकी विभाग से एक ट्रैक्टर पर 1 लाख 50 हजार रुपए सबसिडी मिलती है।  इसी सब्सिडी को लेकर अधिकारी रिश्वत की डिमांड कर रही थी|  महिला अधिकारी के खिलाफ लोकायुक्त ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 छिंदवाड़ा के अलावा जबलपुर की दूसरी लोकायुक्त टीम ने डीएसपी जेपी वर्मा के नेतृत्व में परासिया के पटवारी विजय उर्फ कैलाश पिता कृष्णराव राउत को ग्राम उमरेठ के किसान महेंद्र सोनी से साढ़े तीन हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। पटवारी ने जमीन की बही बनाने के एवज में रिश्वत मांगी थी।