कलेक्टर ने वरिष्ठ अधिकारियों को सौंपी कोरोना से बचाव एवं नियंत्रण की जिम्मेदारी

उन्होंने आम जनों से अपील की है कि सभी व्यवस्थाओं के लिये प्रभारी अधिकारी बनाए गए हैं। किसी को भी कोई परेशानी हो तो संबंधित प्रभारी से संपर्क कर अपनी समस्या बताए, उसका निराकरण तत्परता से किया जायेगा।

महिला बाल विकास विभाग कोरोना

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से बचाव एवं नियंत्रण के लिये कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने जिले में वरिष्ठ अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है। ऑक्सीजन मैनेजमेंट, आम जनों की शिकायतों के निराकरण, जनप्रतिनिधियों से प्राप्त शिकायतों के निराकरण, अस्पतालों में की उपलब्धता का प्रबंधन तथा रेमडेसिवीर इंजेक्शन  के मैनेजमेंट के लिये वरिष्ठ अधिकारियों को तैनात किया गया है। इन अधिकारियों के साथ-साथ पर्याप्त संख्या में कर्मचारियों को भी उनके साथ लगाया गया है। सभी प्रभारी अधिकारी 24X7 अपने दल के साथ उपस्थित रहकर नियंत्रण और व्यवस्थाओं को मैनेज करेंगे।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh)ने सोमवार को बाल भवन में प्रभारी अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सभी प्रभारी अधिकारी अपने दल के साथ 24X7 व्यवस्थायें सुनिश्चित करें। कंट्रोल कमाण्ड सेंटर में सभी प्रभारी अधिकारी अपने-अपने दल को तैनात कर व्यवस्थाओं को प्रभावी रूप से संचालित करने का कार्य करें। किसी भी प्रकार की परेशानी आने पर वरिष्ठ अधिकारियों और कंट्रोल कमाण्ड सेंटर के माध्यम से समस्या का निराकरण सुनिश्चित करें।

ये टीम करेगी ऑक्सीजन मैनेजमेंट

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने ऑक्सीजन मैनेजमेंट के लिये एसडीएम भितरवार अश्विन कुमार रावत मोबाइल  नंबर 7898602754 तथा नायब तहसीलदार आंतरी सुश्री ज्योति जाटव मोबाइल  9685856952 को जिम्मेदारी सौंपी है। ऑक्सीजन मैनेजमेंट के लिये इस दल में 30 कर्मचारियों को भी तैनात किया गया है। एसडीएम अश्विन कुमार रावत कंट्रोल कमाण्ड सेंटर मोतीमहल में उपस्थित रहकर ऑक्सीजन मैनेजमेंट की व्यवस्था संभालेंगे।

अस्पतालों में पलंग की उपलब्धता का प्रबंधन

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने शासकीय एवं निजी चिकित्सालयों में पलंग की उपलब्धता के प्रबंधन के लिये एसडीएम डबरा प्रदीप शर्मा मोबाइल नंबर  9425129303 एवं तहसीलदार श्रीमती शिवानी पाण्डे मोबाइल  नंबर 9752006778 को तैनात किया है। एसडीएम एवं तहसीलदार अपने अधीनस्थ 30 कर्मचारियों के साथ चरणबद्ध 24 घंटे कंट्रोल कमाण्ड सेंटर पर उपस्थित रहकर अस्पतालों में पलंग की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे।

रेमडेसिवीर इंजेक्शन का ये करेंगे प्रबंधन

रेमडेसिविर वैक्सीन के प्रबंधन के लिये कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने नायब तहसीलदार हस्तिनापुर श्रीमती वंदना यादव मोबाइल नंबर  8965026512, ड्रग इंस्पेक्टर दिलीप अग्रवाल अग्रवाल मोबाइल नंबर 9993609356 और चिकित्सा अधिकारी डॉ. नागेन्द्र ऋशिश्वर मोबाइल नंबर  9425129294 के साथ चार कर्मचारियों को तैनात कर रेमडेसिवीर  की उपलब्धता, कोविड हॉस्पिटल से डिमांड के अनुसार उपलब्धता के संबंध में व्यवस्थायें संभालेंगीं।

ये भी पढ़ें – कोरोना में भारत की मदद के लिए आगे आया गूगल, माइक्रोसॉफ्ट ने भी हाथ बढ़ाया

आमजन की शिकायतों का निराकरण ये टीम करेगी 

आमजन की शिकायतों के निराकरण के लिए नायब तहसीलदार पिछोर बृजमोहन आर्य मोबाइल नंबर 8959979693 तथा नायब तहसीलदार आंतरी सुश्री ज्योति जाटव मोबाइल नंबर  9685856952 के साथ 12 कर्मचारियों को तैनात किया गया है। शिकायतों के निराकरण के लिये यह दल कंट्रोल कमाण्ड सेंटर में उपस्थित रहकर शकायतों का निराकरण सुनिश्चित करेंगे। इसी प्रकार जनप्रतिनिधियों से प्राप्त शिकायतों के निराकरण हेतु अपर तहसीलदार डबरा श्रीमती प्रतिज्ञा शर्मा मोबाइल नंबर 9977724713 के साथ 6 लोगों को तैनात किया गया है। यह दल भी जनप्रतिनिधियों से कोविड के संबंध में प्राप्त शिकायतों का निराकरण सुनिश्चित करेंगे।

ये भी पढ़ें – 25 हजार साल पुराना है कोरोना वायरस, स्टडी में किया गया दावा

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने अपने कार्यालय अथवा कलेक्टर को प्राप्त शिकायतों के निराकरण के लिये अपर तहसीलदार डबरा सीताराम वर्मा मोबाइल नंबर  9425797351 एवं नायब तहसीलदार उटीला श्रीमती पूजा मावई मोबाइल नंबर  9074887375 के साथ दो कर्मचारियों को तैनात किया है। यह कर्मचारी प्राप्त शिकायतों का समय – सीमा में निराकरण सुनिश्चित करेंगे।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह (Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने सभी प्रभारी अधिकारियों की बेठक में यह भी निर्देशित किया है कि सभी प्रभारी अधिकारी अपने-अपने दायित्वों का पूरी तत्परता से निर्वहन करें। कोरोना  के संक्रमण की इस घड़ी में सभी अधिकारियों को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर लोगों को राहत देने का कार्य करना है। अधिकारी लोगों की समस्याओं के निराकरण के लिये पूरी तत्परता से कार्य करें। आपसी समन्वय स्थापित कर लोगों को समय पर राहत मिले, यह सुनिश्चित किया जाए।

ये भी पढ़ें – कोरोना काल में ड्यूटी के साथ मानवता की मिसाल पेश कर रहे यातायात टीआई, हर कोई कर रहा तारीफ

कलेक्टर श्री सिंह ने आम नागरिकों से भी अपील की है कि कोरोना महामारी के दौर में पूरी सावधानी और सतर्कता के साथ संक्रमण से बचने का कार्य करें। धैर्य और सावधानी के साथ इस कठिन समय में अपना और अपने परिवार का ध्यान रखें। शासन और प्रशासन लोगों को बेहतर सुविधा देने के लिये हर संभव प्रयास कर रहा है। सभी के सहयोग से ही कोविड-19 के संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सकता है। उन्होंने यह भी बताया कि ऑक्सीजन की कमी जरूर है लेकिन उसकी आपूर्ति निरंतर बनाए रखने के लिये शासन और प्रशासन पूरी तत्परता से कार्य कर रहा है। रेमडेसिवीर इंजेक्शन  भी अधिक से अधिक जिले में जरूरतमंदों को मिले, इसके लिये प्रबंधन किया जा रहा है। उन्होंने आम जनों से अपील की है कि सभी व्यवस्थाओं के लिये प्रभारी अधिकारी बनाए गए हैं। किसी को भी कोई परेशानी हो तो संबंधित प्रभारी से संपर्क कर अपनी समस्या बताए, उसका निराकरण तत्परता से किया जायेगा।