भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। हैदराबाद (Hyderabad) से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अब मध्य प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) लड़ने की तैयारी में है। जिसके लिए राजधानी भोपाल में AIMIM पार्टी ने अपना दफ्तर भी खोला है। वही ओवैसी की मप्र में एंट्री पर कांग्रेस-बीजेपी दोनों पार्टियों ने निशाना साधा है।

यह भी पढ़ें… कोरोना के हॉटस्पॉट इंदौर में नए प्रभारी CMHO ने संभाला पदभार, कहा- कोविड-19 से जंग रहेगी प्राथमिकता

बीजेपी के रामेश्वर शर्मा ने साधा निशाना
भारतीय जनता पार्टी के विधायक रामेश्वर शर्मा ने AIMIM की मध्य प्रदेश में एंट्री पर निशाना साधते हुए कहा कि ”मध्य प्रदेश में ओवैसी का क्या लेना-देना, एमपी में अलगाववाद नहीं, बल्कि राष्ट्रवाद चलेगा, विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि उनकी ओवैसी से हाथ जोड़कर प्रार्थना है कि वह हैदराबाद में ही रहे एमपी में ना आए, क्योंकि जितनी भी अलगाववादी शक्तियां देश में पैदा हुई है वह कांग्रेस की देन है। इसलिए वह कहना चाहते हैं कि मध्य प्रदेश में ओवैसी को नहीं आना चाहिए. ”

कांग्रेस के पीसी शर्मा ने निशाना साधा निशाना
बीजेपी के अलावा ओवैसी की पार्टी की मप्र के तरफ बढ़ते रुझान पर पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने निशाना साधा है। शर्मा ने कहा कि ”मध्यप्रदेश में कांग्रेस के मुस्लिम लीडर आरिफ अकील (Arif Aqeel) और आरिफ मसूद (Arif Masood) मुस्लिम समाज को टूटने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि MIM की मध्य प्रदेश में आगमन भाजपा की प्लानिंग है। लेकिन उनके मंसूबे मप्र में कामयाब नहीं होंगे। कांग्रेस का वोट एक परसेंट भी नहीं कटेगा। मध्य प्रदेश में ओवैसी आकर एक वोट भी नहीं काट पाएंगे। क्योंकि एमपी में कांग्रेस की मुस्लिम लीडरशिप बहुत मजबूत है। मप्र में ओवैसी का मोबाइल एप नहीं चलेगा।

बतादें कि , AIMIM ने पार्टी का ऑनलाइन सदस्यता शुरू कर दी है। इस सदस्यता अभियान के लिए AIMIM ने एक फ़ोन एप भी बनाया है। जिसके तहत पार्टी से लोगों को जोड़ा जाएगा।

यह भी पढ़ें…दमोह उपचुनाव 2021: कांग्रेस ने किया प्रत्याशी का ऐलान, राहुल लोधी को टक्कर देंगे ये नेता