कांग्रेस ने 12 लोगों पर दर्ज आचार संहिता उल्लंघन के मामले का ठीकरा भाजपा के सिर पर फोड़ा

प्रशासन के द्वारा 12 कांग्रेसी नेताओं पर की गई आचार संहिता उल्लंघन की कार्रवाई का कांग्रेस पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी के सिर पर ठीकरा फोड़ा है।

अशोकनगर, हितेन्द्र बुधौलिया। प्रशासन के द्वारा 12 कांग्रेसी नेताओं पर की गई आचार संहिता उल्लंघन की कार्रवाई का कांग्रेस (congress) पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी (bjp) के सिर पर ठीकरा फोड़ा है। साथ ही प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई को दोषपूर्ण बताते हुए कहा कि, लोकतंत्र में अपनी बात रखने के लिए प्रदर्शन करने का हक सबको है।

पिछले दिनों 19 अक्टूबर को कलेक्ट्रेट के सामने कांग्रेस पार्टी द्वारा कलेक्टर एवं एसडीएम को हटाने की मांग को लेकर किए गए प्रदर्शन पर, 12 कांग्रेसी नेताओं पर कोतवाली थाने में आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता शहरयार खान (Shahryar Khan) ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस कार्रवाई को दोषपूर्ण बताया। उन्होंने कहा है कि कांग्रेसियों द्वारा संवैधानिक तरीके से अपना विरोध जताते हुए अपनी बात प्रशासन के समक्ष रखी थी। राज्य निर्वाचन अधिकारी के नाम एक ज्ञापन सौंपा था। लेकिन भाजपा के दबाव में कांग्रेसियों पर मामला दर्ज किया गया है, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। खान ने कहा कि लोकतंत्र में अपनी बात रखने का अधिकार देश के हर नागरिक को है लेकिन भाजपा ओछी राजनीति करते हुए हमारी आवाज को दबाने का प्रयत्न कर रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि वह भाजपा के मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे। भाजपा द्वारा कांग्रेसियों पर मामला दर्ज कराकर चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया जा रहा है जो सरासर गलत है। कांग्रेस का कहना है कि इस मामले से राज्य निर्वाचन आयोग को अवगत कराया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने भले ही भाजपा पर इस मामले का ठीकरा फोड़ा हो। मगर प्रशासन ने एफ़एसटी टीम के प्रतिवेदन के बाद यह कार्रवाई की है। जिसमें कांग्रेस पर आरोप है कि उन्होंने आचार संहिता एवं धारा 144 लागू होने के बाद भी बिना अनुमति के जुलूस निकाला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here