कांग्रेसियों ने मनाई पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती, जन आशीर्वाद यात्रा के उग्र विरोध का लिया संकल्प

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 77वीं जयंती पर इंदौर में कांग्रेसियों ने राजीव गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गी राजीव गांधी जयंती पर इंदौर में कांग्रेसियों द्वारा उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर सद्भावना के रूप में मनाई गई। इस मौके पर कांग्रेसियों ने बीजेपी द्वारा निकाली गई जन आशीर्वाद यात्रा पर भी विरोध जताया है और आने वाले दिनों में उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

कांग्रेसियों ने मनाई पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती, जन आशीर्वाद यात्रा के उग्र विरोध का लिया संकल्प

ये भी देखें- MP Weather: मप्र के 18 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, एक साथ ऑरेंज-येलो अलर्ट जारी

मध्य प्रदेश के राज्यसभा सांसद व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा इंदौर शहर में बाहुबली रूप से जन आशीर्वाद यात्रा निकाली गई थी। जिसको लेकर कांग्रेस अब आंदोलन की बात कह रही है। शहर के कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल का कहना है कि -जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान शहर में जगह-जगह ट्रैफिक जाम की समस्या से शहर वासियों को सामना करना पड़ा। वहीं जो महिलाएं घर से राखी के त्यौहार के चलते उपयोगी वस्तुएं खरीदने गई थी उन्हें बाजारों में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इसके चलते एम्बुलेंस भी कई जगह फंस गई जो कि काफी निंदनीय है। ऐसे में सोये प्रशासन को जगाने के लिए आने वाले समय में कांग्रेस द्वारा पूरा मैप तैयार कर विरोध गत प्रदर्शन किया जाएगा।

ये भी देखें- Amazon कंपनी के खिलाफ एक पिता ने लगाई पुलिस से गुहार, कहा – ‘Amazon ने ले ली उसके बेटे की जान’

इधर, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने शहर के अधिकारियों को आड़े हाथों लेते कहा कि- बीजेपी द्वारा निकाली गई जन आशीर्वाद यात्रा में शहर के किसी भी अधिकारी से कोई परमिशन नहीं ली गई थी। बावजूद इसके शहर में इतनी बड़ी यात्रा बीजेपी द्वारा निकाली गई। सभी अधिकारियों को बीजेपी द्वारा चमका कर रखा गया है। महामारी के नाम पर प्रशासन लगातार आम आदमी को परेशान करने में लगा है, लेकिन जनआशीर्वाद यात्रा पर कोई कार्रवाई नहीं की गई यह निंदनीय है। ऐसे में आने वाले समय में कांग्रेस उग्र आंदोलन करेगी और अपनी आपत्ति दर्ज कराएगी।

हालांकि बीजेपी द्वारा निकाली गई जनआशीर्वाद यात्रा के पहले कांग्रेस विरोध जता रही थी और अब जब सोशल मीडिया पर एम्बुलेंस फंसने और ट्रैफिक जाम के वीडियो वायरल हो रहे हैं, तो कांग्रेस मजबूती से विरोध के मूड में नजर आ रही है और माना जा रहा है कि रक्षाबंधन पर्व के बाद कांग्रेस मुखर होकर विरोध जता सकती है।