Dabra news: नाइट कर्फ्यू के बावजूद चोरों ने मुख्य बाज़ार में दो दुकानों पर किया हाथ साफ

नाइट कर्फ्यू के बावजूद चोरी का हो जाना पुलिस को भी सवालों के घेरे में खड़ा कर रहा है। सरकारी सीसीटीवी कैमरे कई दिनों से बंद पड़े हुए हैं।

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। डबरा में चोरों ने मुख्य चौराहे पर स्थित दो दुकानों को बीती रात हाथ साफ किया। चोरों ने नगर केे मुख्य बाजार में स्थित दो दुकानों को अपना निशाना बनाते हुए नकदी, मोबाइल और लैपटॉप पार कर दिए। लगातार बुलंद हौसलों के साथ डबरा में चोरों ने इस बार उस जगह  चोरी की, जहां कोई सोच भी नहीं सकता। साथ ही इस चोरी के बाद पुलिस प्रशासन भी सवालों के घेरे में है, क्योंकि इस समय शहर में नाइट कर्फ्यू जारी है। नाइट कर्फ्यू के चलते पुलिस की गश्ती पूरे शहर के साथ-साथ मुख्य बाजारों में और भी ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे में चोरों ने चोरी के लिए वह समय कैसे चुना, क्या पुलिस सही में नाइट कर्फ्यू में गश्त कर रही है, और यदि कर रही है तो फिर यह चोरी कैसे हुई?  ऐसे कई प्रश्न अब पुलिस को सवालों के घेरे में खड़ा कर रहे हैं।

यहां भी देखें- Jabalpur news: महिला पुलिस आरक्षक ने थाना प्रभारी पर लगाया प्यार में धोखे का आरोप 

नगर के मुख्य बाजार स्थित अग्रसेन चौराहे पर गणेश मेडिकल और संजय म्यूजिक की दुकान को बीती रात चोरों ने अपना निशाना बनाया। चोर मेडिकल में रखे लगभग ₹35000 नगद चुरा ले गए। इसके बाद बगल में ही स्थित संजय म्यूजिक की दुकान पर भी चोरों ने अपना हाथ साफ किया यहां से मोबाइल, लैपटॉप, चार्जर, हेडफोन सहित अन्य सामान चुरा ले गए।

यहां भी देखें- Damoh news: जमीनी विवाद में परिजनों ने ही कर दी युवक की हत्या

 गौरतलब है कि इस इलाके में नगर पालिका द्वारा लगभग 1500000 रुपए की राशि खर्च कर सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए थे जो फिलहाल बंद पड़े हुए हैं।  बरहाल पुलिस चोरों की खोज में लगी हुई है। आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है और कई दुकानों में लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगालने की कोशिश पुलिस कर रही है। हालांकि सबसे बड़ा प्रश्न यही है कि सरकारी खर्चे पर लगे सीसीटीवी कैमरे बंद पड़े होने के कारण ही चोरों की हिम्मत इतनी बढ़ गई।

यहां भी देखें- MP News : किशोरों के वैक्सीनेशन में मध्य प्रदेश ने हासिल की उपलब्धि, शिवराज ने दी बधाई

आम नागरिकों का कहना है कि यदि समय पर सीसीटीवी कैमरे देख लिए जाते और उन्हें दुरुस्त कर दिया जाता तो आज इन चोरों की हिम्मत इस बाजार में चोरी करने की नहीं होती और यदि वे इस काम को करते भी तो सीसीटीवी कैमरे में घटना कैद हो जाती। वही नाइट कर्फ्यू और पुलिस के रेगुलर कष्ट करने के बावजूद हुई चोरी ने खुद पुलिस प्रशासन की कार्यविधि पर प्रश्नचिन्ह लगा दिए हैं।