दस करोड़ की सरकारी भूमि से हटाया अतिक्रमण, एसडीएम के निर्देश पर हुई कार्रवाई

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। शासकीय भूमि से अवैध कब्जाधारियों को हटाने की मुहिम पूरे प्रदेश भर में लगातार जारी है। इसी क्रम में डबरा और भितरवार में भी अब तक करोड़ों की शासकीय भूमि को अतिक्रमण (Encroachment) से मुक्त करा लिया गया है। शुक्रवार को फिर डबरा एसडीएम प्रदीप शर्मा के नेतृत्व में राम जानकी मंदिर की लगभग 32 बीघा भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया गया। भूमि की कीमत लगभग दस करोड़ आंकी गई है।

बता दें कि जोरासी स्थित राम जानकी मंदिर की 32 बीघा भूमि एनएच 44 और बिलौआ मुख्य मार्ग पर स्थित है जिस पर बारह लोगों द्वारा कई समय से अतिक्रमण कर खेती की जा रही थी, साथ ही मकान भी बना लिया गया था। एसडीएम के साथ बिलौआ तहसीलदार प्रतिज्ञा शर्मा पटवारी पंडोलिया राजस्व अमला और पुलिस ने पहुंचकर इसे नष्ट कराया। जिस भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया यह बेशकीमती भूमि मंदिर पेटे में दर्ज थी जिस पर कई वर्षों से दबंगों ने कब्जा कर रखा था जिसे प्रशासन ने मुक्त करा दिया। यहाँ फसल को तो नष्ट किया ही मौक़े पर बने पक्के मकान को भी जमींदोज कर दिया।

इनका कहना है – ग्वालियर हाईवे पर राम जानकी मंदिर की 32 बीघा भूमि थी जिसे आज अतिक्रमण मुक्त कराया है। इस भूमि की कीमत लगभग दस करोड़ रुपए हैं आगे भी इस तरह की कार्यवाही जारी रहेगी।
प्रदीप शर्मा, एसडीएम डबरा