Gwalior : चौकी प्रभारी ने चेकिंग के दौरान 250 ग्राम सोना किया खुर्द बुर्द, जानें पूरा मामला

वहीं मामले में दोषी पाए जाने पर चौकी प्रभारी का निलंबन तय माना जा रहा है।

स्पेशल रिपोर्ट, सलिल श्रीवास्तव। मध्यप्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) जिले से सोने के गहने और सोने को खुर्द बुर्द करने का मामला सामने आया है जहाँ टेकनपुर के समीप चौकी प्रभारी ने चेकिंग के दौरान गहने लेकर ललितपुर जा रहे सराफा कारोबारी की कार को रोक लिया गया जिसमें सोने के गहने बरामद होने पर थाना प्रभारी ने बिना बिल के मिलें जेवरात एंव सोने में से लगभग 250 ग्राम सोना खुर्दबुर्द कर दिया, और वहीं इस पूरे मामले को निपटने के लिए सराफा कारोबारी से चौकी प्रभारी ने कथित तौर पर 90 हजार रूपए की रिश्वत के अलग से लिए है।

आपको बता दें कि रविवार की रात को सराफा कारोबारी ने इसकी शिकायत बड़े पुलिस अफसरों से की तभी वरिष्ठ अधिकारियों ने शिकायत को संज्ञान में लेते हुए तत्काल चौकी प्रभारी को लाइन अटैच करते हुए और मामले की जांच एसडीओपी डबरा विवेक शर्मा को सौंपी गई है, वहीं मामले में दोषी पाए जाने पर चौकी प्रभारी का निलंबन तय माना जा रहा है।

क्या है पूरा मामला
थोक सराफा कारोबारियों के यहां से रविवार को अन्य जिले के सराफा कारोबारी सोना एंव सोने के जेवरात खरीदने के लिए ग्वालियर आते है। रविवार की रात को ललितपुर के सराफा कारोबारी सम्यक जैन सर्राफ अपनी कार से सोने के जेवरात खरीदकर ग्वालियर से ललितपुर जा रहे थे। जहां रास्ते में टेकनपुर के समीप चौकी प्रभारी महेन्द्र प्रजापति ने उनकी कार को रोक लिया, सर्राफा कारोबारी की कार में सोने के जेवरात थे, चौकी प्रभारी गाड़ी में मिलें जेवरात की तस्दीक एंव वजन कराने के लिए टेकनपुर में स्थित पंकज ज्वेलर्स की दुकान पर ले गए, जहां जेवरात के डिब्बे सहित कुल वजन 993 ग्राम था, जिनमें से 437 ग्राम के जेवरातों का पक्का बिल था, वही लगभग 420 ग्राम सोनें एंव जेवरात का बिल नही मिलने पर थाना प्रभारी ने बिना बिल के मिलें जेवरात एंव सोने में से लगभग 250 ग्राम सोना खुर्दबुर्द कर दिया, वहीं कारोबारी का आरोप है कि मामला निपटने के लिए उससे 90 हजार रुपए रिश्वत के अलग से लिए हैं।

इसके बाद सराफा कारोबारी ने सोने को खुर्दबुर्द किए जाने की सूचना तत्काल ग्वालियर के थोक व्यापारी को दी, इसके बाद सराफा कारोबारी ने एसपी ग्वालियर को सूचना दी। उसके बाद एएसपी देहात ने एसडीओपी विवेक शर्मा को इस मामले की जांच के आदेश दिए। मामले में प्रथम दृष्टया चौकी प्रभारी की भूमिका संदिग्ध मिलने पर चौकी प्रभारी महेन्द्र प्रजापति और आरक्षक रहीश गुर्जर को एसपी ने तत्काल प्रभाव से लाइन अटैच कर दिया है। और हाल ही डबरा सिटी थाने के एसआई देवेन्द्र लोधी को चौकी का प्रभार दिया गया है।

Gwalior : चौकी प्रभारी ने चेकिंग के दौरान 250 ग्राम सोना किया खुर्द बुर्द, जानें पूरा मामला

इस पूरे मामले में टेकनपुर स्थित पंकज ज्वैलर्स के फुटेज से तस्दीक की जा रही है, वही सराफा कारोबारी के बयानों एंव बरामद माल के बिलों, बिना बिल के जेवरात ले जा रहे माल की सत्यता एंव चौकी प्रभारी द्वारा खुर्दबुर्द किए गए जेवरातों की सत्यता जानने के लिए एसडीओपी हर एंगल से जांच कर रहे है। फिलहाल चौकी प्रभारी महेन्द्र प्रजापति को लाइन अटैच कर दिया गया है, उनके स्थान पर डबरा सिटी थाने के एसआई देवेन्द्र लोधी को चौकी का प्रभार दिया गया है।

डबरा एसडीओपी विवेक शर्मा का कहना है कि सराफा कारोबारी द्वारा दिए गए आवेदन पर जांच शुरू कर दी गई है, सराफा कारोबारी ने चौकी प्रभारी पर 200 से 250 ग्राम सोने के जेवरात की हेराफेरी करने का आरोप लगाया है, इस पूरे घटनाक्रम की जांच की जा रही है, वहीं सराफा कारोबारी ग्वालियर के सराफा कारोबारी के यहां से कितना माल लेकर आया था। टेकनपुर में ज्वेलर्स के यहां कितना माल तुलवाया गया है, हर एंगल से जांच की जा रही है। इस पूरे मामले में चौकी प्रभारी की भूमिका प्रथम दृष्टया संदिग्ध मानते हुए वरिष्ठ अधिकारियों ने चौकी प्रभारी और एक आरक्षक को तुरंत लाइन अटैच कर दिया गया है।