भाजपा के पूर्व मंत्री पुत्र की थाना प्रभारी को चेतावनी, ‘गिन-गिन कर हिसाब बराबर करूंगा’

दमोह| Damoh News जिले के हटा में पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के पुत्र युवा नेता सिद्धार्थ मलैया (Sidharth Malaiya) के नेतृत्व में सैंकड़ों लोगों ने शुक्रवार को चौरसिया परिवार पर दर्ज हुए हत्या के आरोप के प्रकरण के खिलाफ सड़कों पर उतर कर हटा बंद रख प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने महामहिम राज्यपाल के नाम का ज्ञापन हटा एसडीएम को सौंपकर चौरसिया परिवार पर दर्ज कथित झूठा प्रकरण ख़ारिज करने, गिरफ्तारी पर रोक, मामले की जांच, हत्याकाण्ड में दोषी पथरिया विधायक रामबाई सिंह के परिजनों का दमोह जेल से स्थानांतरण और दमोह जेलर राणा को हटाने की मांग की है। इस दौरान युवा नेता सिद्धार्थ मलैया हटा थाना प्रभारी राकेश बंजारा पर जमकर बरसे और कहा कि बंजारा जी मैं आपसे गिन गिन कर हिसाब बराबर करूँगा|

दरअसल, मामला बुधवार की रात करीब 9:00 बजे का है, जिसमें मगरोन थाना क्षेत्र के ग्राम फतेहपुर के पास आवेदक कमलेश अहिरवार के कथनों के आधार पर हत्या के प्रयास का मामला पंजीबद्ध करते हुए पुलिस ने दिवंगत कद्दावर नेता देवेंद्र चौरसिया के पुत्र ओर उनके भाई समेत चार लोगों पर मामला पंजीबद्ध किया था| चौरसिया परिवार पर मामला दर्ज होने के बाद गुरूवार को दमोह में पूर्व मंत्री पुत्र सिद्धार्थ मलैया ने प्रेस कांफ्रेंस कर पथरिया विधायक रामबाई सिंह सहित दमोह जेलर पर गंभीर आरोप लगाते हुए अत्याचार और गुंडागर्दी के खिलाफ लड़ने की बात कर हटा बन्द और प्रदर्शन का आव्हान किया था|

थाना प्रभारी पर बरसे मलैया
शुक्रवार को पूर्व वित्त मंत्री के पुत्र सिद्धार्थ मलैया के नेतृत्व में हटा बंद करके विरोध प्रदर्शन किया गया, इस दौरान पथरिया की बसपा विधायक रामबाई सिंह का पुतला दहन किया गया| इस दौरान थाना प्रभारी राकेश बंजारा को युवा नेता सिद्धार्थ मलैया ने खरी खरी सुनाते हुए कहा, याद रखना बंजारा जी आपसे गिन गिन कर हिसाब लिया जाएगा, कहा कि मेरी किस्मत की लकीरों में सत्ता लिखी हुई है पथरिया से विधायक रामबाई सिंह भले ही ना रहे मगर मैं जरूर सत्ता में रहूंगा, और अगर वह विधायक रही तो उन्हें प्रदेश के बाहर भिजवा दिया जाएगा, और आपसे भी हिसाब चुन-चुन कर लिया जाएगा| उन्होंने यह भी कहा कि बंजारा जी में यह भी जानता हूं कि आप जिस काम के लिए आए थे वह काम आपने पूरा किया है, आपके आने के समय में आपसे एक बात कहना चाहता था,सोचा था कि फेसबुक के माध्यम से बात करने का प्रयास किया कि,कृपया कर निवेदन है जिस काम के लिए आपको पथरिया विधायक ने हटा में बैठाया गया है, वह ना करें, क्योंकि वह कहीं ना कहीं गलत है|