बसपा विधायक रामबाई के खिलाफ हटा में हल्लाबोल प्रदर्शन, मलैया के बेटे ने खोला मोर्चा

दमोह| गणेश अग्रवाल| कांग्रेस नेता दिवंगत देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड केस के मुख्य गवाहों पर मगरोंन थाने में मुकदमा कायम कराया है| जिसके विरोध में हटा के लोगो ने एक जुट होकर अपने प्रतिष्ठान बंद करके सड़को पर उतर बसपा विधायक रामबाई के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया और रामबाई सिंह परिहार का महिलाओं ने पुतला फूंका| इस दौरान दमोह के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे भाजपा नेता सिद्धार्थ मलैया, कांग्रेस नेता रहे देवेंद्र चौरसिया के बेटे सोमेश चौरसिया के समर्थन में उतर आए वही उन्होंने बसपा विधायक रामबाई पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए प्रशासन से 15 दिवस की भीतर फर्जी मुकदमा निरस्त करने की मांग है|

बहुचर्चित देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के बाद अब मामले ने नया मोड़ ले लिया है| देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड केस में मुख्य गवाहों पर मगरोंन थाने में 307 का मामला दर्ज किया गया है | वही चौरसिया परिवार का आरोप है कि बसपा की दबंग विधायक रामबाई सिंह की शह पर पुलिस ने झूठा प्रकरण दर्ज किया है| शुक्रवार को हटा बस स्टैंड पर कांग्रेस नेता रहे देवेंद्र चौरसिया के परिवार का समर्थन करने के लिए हटा में सेकड़ो लोगो ने अपने प्रतिष्ठान बंद रख बसपा विधायक रामबाई सिंह परिहार का जमकर विरोध प्रदर्शन करते हुए पुतला दहन किया| साथ ही चौरसिया परिवार पर लगा झूठा प्रकरण निरस्त करने की मांग की|

भाजपा के पूर्व मंत्री के बेटे ने रामबाई के खिलाफ खोला मोर्चा
पूर्व मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया ने रामबाई के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है| एक ओर बसपा विधायक रामबाई भाजपा को समर्थन देते दिख रही हैं तो दूसरी ओर जिले के सबसे बड़े भाजपा नेता जयंत मलैया के बेटे के सिद्धार्थ मलैया ने बसपा विधायक रामबाई और उनके परिवार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है| सिद्धार्थ मलैया ने शुक्रवार को हटा पहुचकर दिवंगत देवेंद्र चौरसिया के बेटे को अपना समर्थन देते हुए सेकड़ो लोगो के सामने संकल्प लिया कि वे देवेंद्र चौरसिया हत्या कांड के आरोपियों को सजा दिलाकर रहेंगे| याद रहे कि कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की रामबाई के रिश्तेदारों ने हत्या कर दी थी| सिद्धार्थ के खुलकर आने के बाद दमोह की राजनीति में नया बवाल शुरू हो गया है|