रेलवे विजिलेंस टीम की बड़ी कार्रवाई, 20 हजार रुपए रिश्वत के साथ पकड़ाए वरिष्ठ खंड अभियंता

शिकायतकर्ता से 5000 रुपए की रिश्वत वरिष्ठ खंड अभियंता पहले ही ले चुका था जबकि बाकी के 20000 रुपए उसे दिया जाना था।

जबलपुर, संदीप कुमार। दमोह में भ्रष्टाचार पर एक अन्य कार्रवाई की गई है। जिसमें रेलवे की विजिलेंस टीम ने दमोह में पदस्थ वरिष्ठ खंड अभियंता को रिश्वत (Damoh bribe) लेते रंगे हाथों पकड़ाहै। जानकारी के मुताबिक वरिष्ठ खंड अभियंता (SSE) कर्मचारी से उसकी पसंद के क्षेत्र में ड्यूटी प्रदान करने के एवज में रिश्वत की मांग कर रहे थे। जिसकी शिकायत वरिष्ठ उप महाप्रबंधक पश्चिम मध्य रेलवे से की गई थी।

वही कार्रवाई के दौरान टीम ने उन्हें रंगे हाथों 20000 रुपए की रिश्वत लेते हुए दबोचा है। वरिष्ठ खंड अभियंता रेल पथ पूर्व दमोह में पदस्थ है और एक कर्मचारी को मनमाफिक स्थान पर ड्यूटी प्रदान करने के लिए रिश्वत मांग रहा था। Read More : गुरु पूर्णिमा के दिन बन रहें है चार खास राजयोग, इन उपायों से चमक उठेगी किस्मत, जीवन में होगी तरक्की 

शिकायतकर्ता से मामले में 5000 रुपए की रिश्वत वरिष्ठ खंड अभियंता पहले ही ले चुका था जबकि बाकी की 20000 रुपए उसे दिया जाना था। जिसकी शिकायत शिकायतकर्ता ने वरिष्ठ उप महाप्रबंधक से की थी। रेल कर्मचारी की शिकायत को पश्चिम मध्य रेलवे के वरिष्ठ उप महाप्रबंधक विजय कुमार गुप्ता ने गंभीरता से लिया और फिर विजिलेंस की एक टीम का गठन कर दमोह रवाना किया गया।

जैसे ही वरिष्ठ खंड अभियंता कर्मचारी से रिश्वत की रुपए ले रहा था तभी टीम ने उसे पकड़ लिया। विजिलेंस टीम हेड क्वार्टर जबलपुर के द्वारा की गई इस कार्यवाही में मुख्य सतर्कता निरीक्षक शैलेंद्र इंगले, संजय मिश्रा, वाई. के कोस्टा, रवि मिश्रा, रविशंकर श्रीवास्तव और अश्वनी कुमार मिश्र रहें।