इंसाफ की मांग को लेकर BJP नेता ने की आत्मदाह की कोशिश, स्वास्थ्य कर्मचारी की मौत से गर्माया मामला

दमोह, गणेश अग्रवाल। जिला अस्पताल में कोरोना के दौरान लगातार सेवाएं देने वाले स्वास्थ्य कर्मचारी की कोरोना से मौत हो जाने के बाद जहां स्वास्थ्य कर्मचारियों ने धरना दे दिया। ये लोग मृतक के परिजनों को 50 लाख मुआवजा और नौकरी की मांग कर रहे थे। इसी दौरान बीजेपी नेता मोंटी रैकवार  (BJP leader monty raikwar) ने खुद पर केरोसीन डालकर आत्मदाह की कोशिश की। हाालंकि मौके पर मौजूद पुलिस ने समय रहते उसे रोक लिया।

बता दें कि दमोह जिला अस्पताल में पदस्थ केशव रैकवार नाम के स्वास्थ्य कर्मचारी की कोरोना से मौत हो गई थी। इसके बाद मृतक के परिजन, समाज के लोग और अन्य कर्मचारी शासन से 50 लाख मुआवजे और मृतक के परिवार को नौकरी देने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। इसी दौरान भारतीय जनता पार्टी नेता और रैकवार माझी समाज के नेता मोंटी रैकवार ने अस्पताल चौराहे पर खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश की। इस दौरान उपस्थित पुलिसकर्मियों ने मोंंटी रैकवार के हाथ से मिट्टी के तेल का डिब्बा छुड़ाया और उन्हें कोतवाली ले गए। इसके बाद भी देर तक कर्मचारियों का प्रदर्शन जारी रहा और वो सरकार से मृतक के लिए इंसाफ की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे।