20 फ़ीट गहरे कुएं में गिरा जान मगरमच्छ, जोखिम में डालकर वन विभाग ने बचाई की जान

मगरमच्छ को सीढ़ियों और राशियों की मदद से सुरक्षित बाहर निकाला व व्यारमा नदी में छोड़ दिया गया।

दमोह ,आशीष कुमार जैन। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के दमोह (Damoh) जिले के तारादेही (Taradehi) रेंज के तहत आने वाले पोंड़ी गावँ में अक्सर पानी के बाहर जमीन पर मगरमच्छ (Crocodile) देखे जाते हैं। जिन्हें ग्रामीण अपने हिसाब से फिर से नदी में भगा देते हैं लेकिन इस बार रात के अंधेरे में एक मगरमच्छ गावँ के एक कुएं में गिर गया। सुबह जब लोगों ने कुएं में हलचल देखी तो तुरंत वन विभाग को सूचना दी। वन विभाग (Forest Department) की टीम ने अपनी जान जोखिम में डालकर मगरमच्छ की जान बचाने का काम किया है। इस रेस्क्यू ऑपरेशन में पांच से छः घंटे मशक्कत करने के बाद वन विभाग की टीम को सफलता हाथ लगी।

यह भी पढ़ें…MP Board : 10वीं और 12वीं की परीक्षा की तारीख घोषित, फरवरी में इस डेट से होंगी शुरू

जिले के ङीएफओ महेंद्र ऊइके ने एक टीम का गठन किया और फिर इस टीम ने पहले बीस फिट गहरे कुएं का पानी निकाला और जब कुआं खाली हो गया तो कुएं में सीढ़ियां डाली गई और घंटो की मशक्क्त के बाद रस्सियों के सहारे मगरमच्छ को कुएं से बाहर निकाल लिया गया। 20 फिट गहरे कुएं से बाहर निकाले गए मगरमच्छ को एक बार फिर सुरक्षित तरीके से व्यारमा नदी में छोड़ा गया है।

डीएफओ महेंद्र ऊइके का कहना है कि तारादेही रेंज के एक गांव पोंडी में कुएं में मगरमच्छ गिरने की खबर मिली थी। तारादेही वन मंडल ने नोरादेही बन मंडल के स्टाफ की मदद लेकर एक टीम का गठन किया और टीम के गठन होने के बाद जल्दी ही पोंडी गांव पहुंचे। जहां मगरमच्छ को सीढ़ियों और राशियों की मदद से सुरक्षित बाहर निकाला व व्यारमा नदी में छोड़ दिया गया।

यह भी पढ़ें…VIDEO : जब कुएं में जा गिरा भालू, तो वन विभाग की टीम ने ऐसे निकाला बाहर