दमोह का पहला संक्रमित मरीज़ हुआ ठीक, कलेक्टर ने गुलदस्ता देकर घर भेजा

दमोह/गणेश अग्रवाल

दमोह जिले में लगातार सामने आ रहे कोरोना पाजेटिव मामलों के बीच आंकड़ा 11 पर पहुंच गया है और इलाके में चिंता बढ़ती जा रही है। लेकिन इस बीच एक अच्छी खबर है जिसके बाद लोगों को कुछ राहत मिलेगी। जिले में सबसे पहले पाए गए कोरोना पॉजिटिव का इलाज होने के बाद वो पूरी तरह स्वस्थ्य हो गया है और सोमवार को उसकी ताजा रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

24 साल का ये युवक बीते दिनों मुंबई से दमोह जिले के सर्रा गावँ आया था। युवक प्रवासी मजदूर था और जांच के बाद उसे कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। चूंकि ये जिले में पहला संक्रमित युवक था लिहाजा सबकी निगाह इसी पर थी। सोमवार को इस युवक की रिपोर्ट नेगेटिव आई जिसके बाद स्वास्थ्य अमले के साथ प्रशासन में भी खुशी की लहर छा गई। देर शाम युवक को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और उसके पहले बाकायदा जिले के कलेक्टर तरुण राठी ने स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उसका सम्मान किया। युवक ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उसका बेहतर इलाज किया गया सुविधाएं भरपूर मिली और उसने अपना मनोबल नही टूटने दिया जिसके बाद वो अब पूर्ण स्वस्थ्य है। वहीं जिले के कलेक्टर तरुण राठी ने खुशी जाहिर करते हुए लोगों से कहा है की घबराएं ना बल्कि सतर्क सावधान रहें। वहीं युवक का इलाज करने वाले चिकित्सक भी बेहद खुश हैं और जनता से अपील कर रहे हैं कि लोग नियमों का पालन करें।