दमोह : श्मशान घाट से अस्पताल वापस लाया गया शव, दाह संस्कार का नहीं था इंतजाम

दमोह जिले के पथरिया श्मशान घाट में संस्कार का इंतजाम नहीं होने के चलते शव को वापस अस्पताल लौटा दिया गया।

दमोह, आशीष कुमार जैन। कोरोना (Covid-19) की दूसरी लहर में जिस तरह से संक्रमण की सूनामी आई है, मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। श्मशान घाटों में दाह संस्कार के लिए जगह कम पड़ती जा रही है, तो कहीं अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियां नहीं है। जहां दमोह जिले के पथरिया श्मशान घाट में लकड़ी का इंतजाम नहीं होने से शव को वापस जिला अस्पताल लौट दिया गया। अंतिम संस्कार करने गए कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) बुजुर्ग महिला के शव को वापस अस्पताल लेकर पहुंचे।

यह भी पढ़ें:- कोरोना कर्फ्यू: शादी में 400 से अधिक मेहमान, पुलिस की मौजूदगी में हुए फेरे, पढ़िए पूरी खबर

दमोह जिले के पथरिया मुक्तिधाम में कोरोना पीड़ित बुजुर्ग महिला मृतक का शव महज इसलिए वापस अस्पताल आ गया क्योंकि श्मशान घाट में अंतिम संस्कार करने के लिए इंतजाम नहीं था। यहां पर तय समय पर नगर परिषद द्वारा लकड़ी का इंतजाम नहीं हो सका। यहां पर अस्पताल की कोरोना वारियर्स टीम शव को लेकर के श्मशान घाट पहुंच गई। पीपीई किट में मौजूद कोरोना वारियर्स काफी देर तक मुक्तिधाम में लकड़ी आने का इंतजार करते रहे। लेकिन अंतिम संस्कार की व्यवस्था नहीं होने के चलते शव को लेकर जिला अस्पताल लौट गए। मामले में जिम्मेदारों ने चुप्पी साध रखी है।