झोलाछाप डॉक्टर का शिकार हुई 3 साल की मासूम, बच्ची की मौत

Disabled-couple-'s-son-dies-in-hot-water

दमोह, गणेश अग्रवाल। जिले में भले ही कलेक्टर ने फर्जी डाक्टरों पर कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हों, लेकिन यह आदेश फाइलों में दबकर रह गए हैं। इसका ताजा उदाहरण पथरिया थाना क्षेत्र में देखने मिला है। यहां 3 साल की मासूम झोलाछाप डॉक्टर का शिकार हो गई।

पथरिया थाना क्षेत्र के सुजनीपुर गांव निवासी खूबे अहिरवार ने बताया है कि उसकी 3 साल की नातिन देविका को देर शाम उल्टी दस्त हुए थे जिसके बाद वह पथरिया थाना क्षेत्र के इलाज करने वाले किसी पटेल डॉक्टर के यहां ले गया था। डॉक्टर ने कुछ दवाइयां दी थी और इंजेक्शन भी लगाया था, उसके बाद वो बच्ची को घर ले गया। लेकिन रात में हालत और बिगड़ गई, बाद में सुबह वह जिला अस्पताल लाया तो डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।