देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में फरार जिला पंचायत अध्यक्ष का बेटा गिरफ्तार

District-Panchayat-president's-son-Devendra-Chaurasia-arrested

दमोह। 

मध्यप्रदेश के हटा क्षेत्र के कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में फरार चल रहे 25 हजार के इनामी बदमाश जिला पंचायत अध्यक्ष के बेटे इंद्रपाल पटेल को भोपाल पुलिस ने धर दबोचा है। आरोपी इंद्रपाल पटेल बीते ढाई माह से फरार था। इंद्रपाल पटेल जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल का बेटा है। पूछताछ में पता चला है कि आरोपी फरारी के दिनों में उत्तरप्रदेश एवं नेपाल में घूमता रहा। लेकिन जब वह भोपाल आया तो उसे भोपाल पुलिस ने मुस्तैदी के साथ आशिमा मॉल के बाहर से पकड़ लिया। 

पुलिस कंट्रोल रूम में रविवार शाम आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में एसपी विवेक सिंह ने देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के फरार आरोपी इंद्रपाल पटेल की गिरफ्तारी जानकारी दी गई। पुलिस ने आरोपी इंद्रपाल के सहयोगी रत्नेश पटेल को भी गिरफ्तार किया है उसके पास से फोर्ड फिगो कार (एमपी 34 सीजी 9844) तथा मोबाइल भी बरामद हुए हैं। इंद्रपाल को पकड़ने में एसआईटी टीम के उप निरीक्षक सत्येंद्र सिंह राजपूत एवं उनकी टीम की मुख्य भमिका रही।

बता दें की 15 मार्च 2019 को हटा में कांग्रेसी नेता देवेंद्र चौरसिया की ह्त्या हो गई थी। इस मामले में सात लोगों को आरोपी बनाया गया था। आरोपियों की गिरफ्तारी पर 25 हजार का इनाम भी घोषित किया गया था। सातों मुख्य आरोपियों में से पांच आरोपियों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। 

जबलपुर हाईकोर्ट में दायर एक याचिका के अनुसार इन दोनों के घटनास्थल पर मौजूद नहीं रहने व राजनीतिक साजिश के तहत फसाए जाने के आरोप लगाए गए थे। इसके बाद कोर्ट द्वारा 18 मई 2019 को जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल की याचिका का निराकरण करते हुए दमोह एसपी को घटना स्थल के सीसीटीवी फुटेज की जांच करने के लिए आदेश दिए थे। हालंकि एसपी ने कोर्ट क्या जानकारी दी इस बात का खुलासा अब तक नहीं हुआ है।  

लेकिन 21 मई को हाईकोर्ट ने कार्यवाही के दौरान अधिवक्ता की अनुपस्थिति के चलते जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल के पुत्र इंद्रपाल की अग्रिम जमानत याचिका को दनके खारिज कर दिया था। जबकि एक अन्य आरोपी को अग्रिम जमानत दे दी गई थी।