Damoh : वन कर्मी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, परिजनों ने रेंजर पर लगाए प्रताड़ना के आरोप

जितेंद्र सिंह के परिजनों ने रेंजर पर प्रताड़ना के आरोप लगाए हैं। प्रताड़ना के आरोप लगाए जाने के बाद जहां मृतक जितेंद्र की पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है।

दमोह, आशीष कुमार जैन। दमोह (Damoh) जिले में एक आत्महत्या (suicide) का मामला सामने आया है। जहां कोतवाली थाना अंतर्गत रहने वाले वन विभाग में पदस्थ जितेंद्र सिंह ने खुद को मौत को गले लगा लिया। जितेंद्र सिंह कुछ दिनों से सस्पेंड चल रहे थे। वहीं जितेंद्र सिंह के परिजनों ने रेंजर पर प्रताड़ना के आरोप लगाए हैं। प्रताड़ना के आरोप लगाए जाने के बाद जहां मृतक जितेंद्र की पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है। तो वहीं जितेंद्र अपने पीछे मासूम बच्चों को भी रोता हुआ छोड़ गया है।

यह भी पढ़ें…Indore : वैक्सीन लगे बिना ही आया मैसेज, वैक्सीनेशन के लिए बधाई हो, पढ़ें पूरी खबर

जानकारी के अनुसार जिले के तेजगढ़ वन परिक्षेत्र अंतर्गत जितेंद्र नामक युवक वनपाल के पद पर काम करता था। लेकिन बीते दिनों से वह सस्पेंड चल रहा था। अपने साले की शादी में शामिल होने के बाद वह जब घर वापस लौटा तो उसने फिर से ड्यूटी ज्वाइन करने की कोशिश की। लेकिन वन परिक्षेत्र के रेंजर के द्वारा पैसों की मांग की गई तथा उसे बहाल नहीं किए जाने की धमकी दी गई। जिसके बाद उसने परेशान होकर अपने घर आकर फांसी के फंदे पर लटक कर आत्महत्या कर ली। फांसी के फंदे पर लटकने के बाद जैसे ही परिजनों को जानकारी लगी, तत्काल ही उसे लेकर जिला अस्पताल लेकर आए। लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

इस मामले पर मृतक की पत्नी और परिजनों ने गंभीर आरोप लगाए हैं। मृतक की पत्नी का कहना है कि रेंजर द्वारा जितेंद्र से पैसे मांगे जा रहे थे। और उसी के चलते वो बहुत परेशान थे। जिसके बाद उन्होंने आत्महत्या कर ली। परिजन उसके शव को लेकर कोतवाली भी पहुंचे। जहां पर रेंजर के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग करते नजर आए।इधर पुलिस मामले की जांच कर रही है।