शराब पीने के बाद दोस्तों ने ही बेरहमी से ली दोस्त की जान, पुलिस ने किया खुलासा

दमोह, आशीष कुमार जैन। दमोह में 6 तारीख को रेलवे ट्रेक पर मिली लाश के मामले में पुलिस का शक सही निकला और चार दिन में पुलिस ने इस अंधे हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। वारदात के सभी छह आरोपी भी पुलिस गिरफ्त में हैं।

Indore Crime : नशे की लत के चलते लूट करने वाले 3 शातिर बदमाश गिरफ्तार

दरअसल 6 नवम्बर को दमोह के फुटेरा फाटक रेलवे ट्रेक पर एक युवक का क्षत विक्षत शव मिला था और इसके बाद इलाके में दहशत फैल गई थी। शव की शिनाख्त गौरीशंकर मंदिर निवासी 23 साल के अतुल तिवारी के रूप में हुई थी। पुलिस इसे पहली ही नजर में हत्या मान रही थी और ये बात सही भी निकली। एसपी ने दमोह की सायबर और फॉरेंसिक टीम के साथ एक विशेष टीम बनाते हुए पांच हजार का इनाम भी घोषित किया था। टीम ने सक्रियता दिखाई और जांच में पाया कि अतुल के छह दोस्तों ने दिन भर शराबखोरी की और इसी दौरान इन लोगों में आपस में कहासुनी हो गई जिस पर ये सभी आरोपी अतुल को रेलवे ट्रेक पर ले गए और लात घूंसो बेल्ट आदि से उनके साथ मारपीट कर उसे ट्रेक पर छोड़ आये। इस अंधे हत्याकांड के खुलासे के साथ ही पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है।