Damoh News: दमोह में तेंदुए की हुई मौत, ग्रामीणों का पत्थर मारते वीडियो आया सामने

Damoh News : मध्य प्रदेश के दमोह से एक खबर सामने आ रही है, जहां तेंदुए की मौत आई तो वो जंगल से गांव आया और अंत में उसे मौत को गले लगाना पड़ा। ऐसी कहावत है कि जब सियार की मौत आती है तो वो गांव की तरफ भागता है लेकिन इस बार सियार की नही बल्कि तेंदुए के साथ ऐसा हुआ।

पत्थर मारते वीडियो आया सामने

दरअसल, मामला दमोह जिले के कुम्हारी थाना क्षेत्र के गावं का है जब एक तेंदुए को गंभीर हालत में जबलपुर इलाज के लिए ले जाया रहा था लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। ग्रामीणों ने एक तेंदुए को रास्ता पार करते देखा, जिससे वहां हड़कंप मच गया। जिसकी सूचना तत्काल लोगों ने वन विभाग को दी। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने इसका वीडियो भी बनाया। इधर, सूचना पाते ही टीम मौके पर पहुंच गई। जिसके बाद उन्होंने सर्च ऑपरेशन शुरू किया, तेंदुआ गांव में मिला और शाम तक ये दावा किया गया कि वो जंगल में भाग गया है और उससे कोई खतरा नहीं है। इस बीच तेंदुआ को गांव में ही आते जाते देखा गया। लोग घरों की छतों से उसे ईंट पत्थर मारते दिखते रहे जिसका वीडियो भी सामने आया है।

तेंदुए ने चौकीदार पर किया हमला

जिसके बाद वन विभाग के एक चौकीदार पर तेंदुए ने हमला कर दिया। इस हमले में जान बचाते हुए चौकीदार प्रताप सिंह ने भी तेंदुए पर वार किए। पहले से घायल तेंदुआ और ज्यादा गंभीर हो गया और उसके साथ चौकीदार भी घायल हुआ। वन विभाग ने शनिवार की देर रात घायल चौकीदार को जिला अस्पताल में दाखिल कराया। जहां से उसे प्राथमिक उपचार के बाद वन अमला जबलपुर लेकर जा रहा था लेकिन तेंदुए ने रास्ते मे ही दम तोड़ दिया।

वन अधिकरियों ने दी जानकारी

वन अधिकरियों के मुताबिक, तेन्दुआ कमजोर नजर आ रहा था लेकिन चोटों के निशान नजर नहीं आए। नियमानुसार, उसका इलाज कराने ले जाया जा रहा था लेकिन वो तेंदुए को बचा नहीं पाए। फिलहाल, जिला अस्पताल में तेंदुए से मुठभेड़ करने वाले चौकीदार की स्थिति भी नाजुक बनी हुई है। वहीं, आज रविवार को मृत तेंदुए का पोस्टमार्टम जबलपुर में  कराया जाएगा। जिसके लिए दमोह के DFO एम.एस. ऊइके सहित अधिकरियो की टीम जबलपुर रवाना हो गई है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मामले का खुलासा होगा।

दमोह से आशीष कुमार जैन की रिपोर्ट