गणेश अग्रवाल।दमोह।

प्रदेश में महिलाओं के लिए अलग से शराब दुकानें खोलने की खबरों के बीच जहां कांग्रेस के मंत्रियों ने इन खबरों को निराधार बताते हुए इस तरह की कोई नीति नहीं लाने की बात कही है। तो वहीं प्रमुख विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे पर कांग्रेस को घेरने के लिए आंदोलन की राह पर है। महिला मोर्चा के द्वारा इस मामले पर कांग्रेस सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी गई है।

दमोह जिला महिला मोर्चा के द्वारा जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय में पहुंचकर राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन सौंपा गया।इस ज्ञापन में मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार द्वारा महिलाओं के लिए अलग से शराब दुकानें खोलने की बात का विरोध किया गया है। जिसमें महिला मोर्चा द्वारा कमलनाथ सरकार को हर मामले पर फेल बताते हुए महिलाओं को भी अब शराब के आगोश में धकेलने का आरोप लगाया गया है।

बीच में कुछ खबरें आई थी कि मध्य प्रदेश सरकार महिलाओं के लिए अलग से शराब दुकानें खुलेगी। जिसके बाद बैकफुट पर आई कांग्रेस ने इस तरह की किसी भी नीति के नहीं होने की बात कही थी। मंत्रियों के इन बयानों के बाद भी महिला मोर्चा द्वारा कांग्रेस को घेरने के लिए कोई भी मौका नहीं छोड़ा जा रहा। यही कारण है कि दमोह महिला मोर्चा की महिलाओं के द्वारा जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर नारेबाजी करते हुए आंदोलन की चेतावनी दी गई है।