दमोह पहुंचे राहुल लोधी को स्वागत के बीच कालिख पोतने की कोशिश, युवक गिरफ्तार

स्वागत के दौरान ही जब राहुल सिंह लोधी पैदल चलते हुए राय चौराहा पहुंचे तो वहां पर 2 युवाओं के द्वारा उन्हें जूते की माला पहनाने और कालिख पोतने का प्रयास किया गया| लेकिन युवा सफल नहीं हो सके और उन्हें पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया| इस दौरान राय चौराहा पर काफी देर तक हड़कंप के हालात बनते नजर आए|

दमोह, गणेश अग्रवाल| कांग्रेस पार्टी की सदस्यता, विधानसभा सदस्य का पद और छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने के करीब ढाई महीने बाद राहुल सिंह लोधी (Rahul Singh Lodhi) को मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने निगम मंडल का अध्यक्ष बनाकर कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया| इसके बाद रविवार को पहली बार राहुल सिंह लोधी दमोह (Damoh) पहुंचे| जहां उनका जगह-जगह स्वागत किया गया| वहीं राय चौराहा पर उनको जूतों की माला पहनाने एवं कालिख पोतने का प्रयास भी किया गया|

उपचुनाव लड़ना तय, मलैया का मिलेगा आशीर्वाद!
दमोह पहुंचे राहुल सिंह लोधी का टोल नाका के पास ही हजारों कार्यकर्ताओं ने एवं समर्थकों ने पहुंचकर उनका आत्मीय स्वागत किया| टोल नाका से शहर प्रवेश तक उनका जगह-जगह फूल मालाओं व ढोल नगाड़ों से स्वागत किया गया| इस दौरान मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में वे उप चुनाव लड़ेंगे और भारी मतों से जीतेंगे भी| जयंत मलैया द्वारा चुनाव में दावेदारी को लेकर उन्होंने कहा कि वह उनके पिता समान है और आगामी दिनों में उनका भी आशीर्वाद उन्हें प्राप्त होगा|

मेडिकल कॉलेज का सपना जल्द पूरा होगा
कांग्रेस छोड़ने के सवाल पर राहुल लोधी का कहना था कि वह दमोह की जनता से किए मेडिकल कॉलेज के वादे को पूरा करना चाहते थे यही कारण था कि उन्होंने कांग्रेस छोड़कर भाजपा ज्वाइन की और अब बहुत जल्द ही दमोह में मेडिकल कॉलेज बनेगा| कांग्रेस के विरोध पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस का काम विरोध करना है और उनका काम दमोह की जनता की सेवा करना|

स्वागत के बीच विरोध भी, कालिख पोतने की कोशिश
स्वागत के दौरान ही जब राहुल सिंह लोधी पैदल चलते हुए राय चौराहा पहुंचे तो वहां पर 2 युवाओं के द्वारा उन्हें जूते की माला पहनाने और कालिख पोतने का प्रयास किया गया| लेकिन युवा सफल नहीं हो सके और उन्हें पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया| इस दौरान राय चौराहा पर काफी देर तक हड़कंप के हालात बनते नजर आए|