दमोह। गणेश अग्रवाल।

जिले के ग्राम कटहरी में रहने वाले अहिरवार परिवार के बेटे गोरेलाल अहिरवार का निधन बीते साल 10 अगस्त को सेना की ड्यूटी के दौरान हो गया था. उनकी पार्थिव देह के अंतिम संस्कार के बाद उनके परिजनों ने अपने अमर शहीद पिता की याद में आदम कद प्रतिमा लगाने का निर्णय लिया. जिसके बाद 26 जनवरी को यह प्रतिमा गांव में स्थापित की गई.

26 जनवरी का दिन जिले के ग्राम खडेरी के लोगों के लिए एक अनोखा दिन साबित होता नजर आया. जब गांव के रहने वाले गोरेलाल अहिरवार की याद में उनके परिजनों के द्वारा उनकी प्रतिमा की स्थापना की गई. इस दौरान अनेक जनप्रतिनिधियों ने यहां पर पहुंचकर अमर शहीद गोरेलाल अहिरवार की प्रतिमा पर माल्यार्पण भी किया, तो वहीं एक कार्यक्रम के दौरान उनको याद भी किया गया. दरअसल सेना में ड्यूटी के दौरान सेनानी गोरेलाल अहिरवार की मृत्यु हो गई थी. जिसके बाद उनकी याद को ताजा रखने के लिए परिजनों द्वारा अपने व्यय पर उनकी प्रतिमा का निर्माण किया. उसके बाद प्रतिमा की स्थापना गांव में ही की गई. इस परिवार ने प्रतिमा की स्थापना अपनी ही जमीन पर की है. जिसमें शासकीय मदद किसी भी तरह से नहीं ली गई. वहीं 26 जनवरी को स्थापना कार्यक्रम के दौरान और उसके बाद तक अमर शहीद को श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों का तांता लगा रहा.