दमोह,गणेश अग्रवाल।जिले के पटेरा विकासखंड अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत विलगुवा के ग्राम तिरगढ़ में लोगों को इस समय बारिश के पानी के कारण समस्या का सामना करना पड़ रहा है।तिरगड से तालाब की ओर जो रास्ता है वह बारिश के पानी में कीचड़ बन जाता है, जिस कारण वहां से छोटे-छोटे बच्चों एवं महिलाओं को निकलने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल ,हटा विधानसभा  के अंतर्गत आने वाले इस गांव में बारिश के पानी से कीचड़ और दलदल के हालात निर्मित हो जाते है, जिस कारण से छोटे बच्चे और बुजुर्ग 2 फुट पानी में से निकलने को मजबूर हैं। इस गांव के लोग जनप्रतिनिधियों से कहने के बावजूद भी समस्याओं से निजात नहीं पा रहे हैं।

ग्रामीण ने बताया कि जब उन लोगों ने सरपंच से बोला कि यहां यह पानी भरा है, कीचड़ है, आने जाने में बहुत समस्या हो रही है, कोई बीमार हो जाए या कोई दुर्घटना हो जाए तो जाने में बहुत समस्या हो रही है, तो यहां पर सीसी निर्माण या मुरमी करण किया जाए। लेकिन वहां के लोगों की किसी ने नहीं सुनी। ऐसी बारिश में गंदा पानी पीने को ग्रामीण मजबूर है। वहीं वहां की महिलाएं नाले का गंदा पानी भर रही हैं, जिसे पीने से कई प्रकार की बीमारियां उत्पन्न हो रही हैं।

ग्राम पंचायत में नल जल योजना चल रही है, लेकिन गांव से थोड़ी दूर जहा से 25 परिवार रहते हैं, उन्हें  बहुत परेशानी का सामना करना पड रहा है । गंदा पानी पीने पर मजबूर हैं वहां के ग्रामीण । ग्रामीणों का कहना है कि हर दिन की समस्या से निजात दिलाने के लिए शासन प्रशासन उन पर ध्यान दें  जिससे  वे गांंव  में अच्छा जीवन जी सके ।