दमोह मे छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब मे कूदकर दी जान

दमोह| देश भर मे इन दिनों लगातार बढ़ रहे महिला अपराध को लेकर गुस्सा देखने को मिल रहा है|हैदराबाद और उन्नाव के बाद अब मध्य प्रदेश के दमोह से दरिंदगी की कुछ ऐसी ही घटना सामने आई है। जहां एक छात्रा ने छेड़छाड़ से तंग आकर अपनी जान दे दी| बताया जा रहा है कि गाँव के ही कुछ युवक कई दिनों से छात्रा को लगातार परेशान कर रहे थे| छात्रा मनचलों की हरकतों से इतना परेशान हो गई थी कि उसने तालाब में कूदकर जान दे दी। 

मामला जिले के देहात थाना अंतर्गत आने वाले लिधौरा ग्राम का है| मृतक छात्रा जिला मुख्यालय स्थित एक स्कूल में पढ़ने के लिए जाती थी| इस दौरान आते जाते समय गांव के ही कुछ युवक उसे परेशान करते थे| इन मनचलों की हरकतों से परेशान होकर छात्रा ने शुक्रवार को तालाब में कूदकर आत्महत्या कर ली| परिजनों को मामले की जानकारी लगने के बाद छात्रा को जिला अस्पताल में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया| छात्रा की मौत के बाद परिजनों ने गांव के ही कुछ लड़कों पर गंभीर आरोप लगाते हुए छेड़खानी की बात कही है| छात्रा के परिजन का कहना है कि वो रोजाना गांव से स्कूल जाती थी। गांव से बाहर निकलते ही उसे कुछ मनचले परेशान करने लगते थे, छींटाकशी करते थे। परिजनों का कहना है कि आरोपियों द्वारा छात्रा को गुलाब का फूल देकर बात नहीं मानने पर घर से अगवा करने की धमकी दी थी| जिसके बाद डरी सहमी छात्रा ने तालाब में कूदकर आत्महत्या कर ली| पुलिस  ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है| पुलिस का कहना है कि परिजनों के बयान लेकर आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी|

शिवराज ने किया इन्साफ दिलाने का वादा  

छात्रा द्वारा छेड़छाड़ से परेशान होकर आत्महत्या किये जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुःख जताते हुए इन्साफ दिलाने का वादा किया है| शिवराज ने टवीट कर कहा है कि छेड़छाड़ से तंग आकर दमोह के लिधौरा गांव की बेटी के आत्महत्या करने के समाचार से अत्यंत व्यथित हूं। कानून और प्रदेश सरकार से यही आग्रह की बेटी को रिकॉर्ड समय में इंसाफ दिया जाए। मेरी बच्ची हम तुझसे वादा करते हैं कि उन दरिंदों को सजा दिलाने से पहले चैन से नहीं बैठेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here