Damoh News: दमोह में पुलिसकर्मी की पत्थर मारकर हत्या, इलाके में फैली सनसनी, जानें पूरा मामला…

Damoh News : मध्यप्रदेश के दमोह जिले से दिल को दहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक पुलिसकर्मी की हत्या कर दी गई। जिससे पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। इस वारदात में दूसरे पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनका इलाज जारी है। आइए जानतें हैं पूरा मामला…

कसाई मंडी इलाके का मामला

दरअसल, मामला दमोह शहर के कसाई मंडी इलाके में बनी पुलिस चौकी का है, जहां SAF के जवान तैनात है। शुक्रवार की देर रात जवान खाना खा रहे थे, तभी चौकी के बाहर कुछ लोग शोर- गुल करने लगे। तभी ड्यूटी पर तैनात जवान सुरेंद्र सिंह बाहर आए और लड़कों को शोर करने से मना किया लेकिन लड़कों को पुलिस की बात रास नहीं आई। जिसके बाद लड़के जवान के साथ बहस करने लगे। इसी बीच अज्ञात लड़कों ने पत्थरों से हमला शुरू कर दिया। जिससे सुरेंद्र सिंह को गंभीर चोटें आई। केवल इतना ही नहीं, चौकी में तैनात दूसरे जवान शोर सुनकर बाहर निकले लेकिन तब तक सुरेंद्र के सर में गंभीर चोट आ चुकी थी और खून बह रहा था। साथ ही, पत्थरबाजी में दूसरा जवान भी घायल हो गया।

मौके पर पहुंची भाजपा पार्षद

इधर, शोर सुनकर चौकी के पास रहने वाले लोगों के साथ वार्ड की भाजपा पार्षद भी मौके पर पहुंच गई और डायल 100 को तत्काल इसकी सूचना दी। जिसकी मदद से घायल पुलिसकर्मी सुरेंद्र को जिला अस्पताल ले जाया गया। जहाँ डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं, इस हत्याकांड के बाद इलाके में तनाव फैल गया है। देर रात से ही जिले के SP डी. आर तेनिवार ने मोर्चा संभालते हुए हालात को काबू में किया है।

आरोपी की तलाश जारी

मामले को लेकर मृतक पुलिस कर्मी के सहयोगी कसाई मंडी चौकी वीरबहादुर का कहना है कि, सुरेंद्र लड़कों को मना करने गया था और उन्होंने उस पर हमला बोल दिया। वहीं, भाजपा पार्षद कविता राय के मुताबिक़, जवान पर पत्थरों से हमला किया गया, जिससे उसका काफी खून बह गया था। उन्होंने इलाके में हो रही वारदातों को लेकर चिंता जाहिर की है। साथ ही उन्होंने आगे कहा कि अब लोगों में कानून का डर नहीं बचा। जब पुलिसकर्मी सुरक्षित नहीं है तो आम जनता का क्या होगा। इधर, इस पूरे मामले में SP डी. आर तेनिवार का कहना है कि, घटना गंभीर है। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है और जल्दी ही आरोपियों तक पहुंचकर उन्हें उचित दंड दिया जाएगा।

दमोह से आशीष कुमार जैन की रिपोर्ट