योग दिवस :1 क्विंटल वजन के बाद भी पानी में फूल की तरह तैरता है यह पुलिसकर्मी

दमोह। गणेश अग्रवाल।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) पर हम आपको एक ऐसे पुलिसकर्मी से मिलाना चाहते हैं जो पुलिसकर्मी करीब 15 सालों से लगातार जल में योग कर रहा है। लोग अक्सर कर जमीन पर ही योग करते हैं। सभी आसन करते हैं और स्वस्थ रहते हैं। लेकिन दमोह (Damoh) में रहने वाला यह पुलिसकर्मी और दमोह पुलिस का वीर जवान पानी में योग के आसन करता है। तो लोग दांतों तले उंगलियां दबा लेते हैं।

हम आपको बताते हैं क्या है इस पुलिसकर्मी का जल योग करने का कारण

दमोह जिले के बांदकपुर चौकी में पदस्थ हवलदार भगवानदास दहिया (Havildar Bhagwandas Dahiya posted at Bandakpur post) लगातार 15 वर्षों से जेल में योग की क्रियाएं कर रहा है, और इसका योग तब लोगों के सामने आया जब वर्तमान सरकार के द्वारा पूर्व के वर्षों में योग को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाए जाने के लिए बल दिया गया. जहां पर लोग जमीन पर योग की क्रियाएं करते हैं, वही यह पुलिसकर्मी पानी में योग की क्रियाएं करता है. पानी में उतरते ही यह पुलिसकर्मी भगवान का नाम लेने लगता है, और फूल की तरह पानी में तैरता रहता है. इस पुलिसकर्मी का कहना है कि उसका वजन करीब 100 किलो यानी 1 क्विंटल है. इसके बावजूद वह पानी में बिना किसी परेशानी के योग की क्रियाएं कर लेता है. इसने यह योग की क्रियाएं प्रयागराज उज्जैन कुंभ नर्मदा भेड़ाघाट सहित अनेक धार्मिक स्थलों पर भी की है. जहां पर उसे सराहना भी मिली है. तो पुलिसकर्मी को वीरता पुरस्कार भी मिल चुका है।