आखिर थाना प्रभारी क्यों नहीं करते वरिष्ठ अधिकारियों के आदेशों का पालन

1073

दतिया| सत्येंद्र सिंह रावत| Datiya News बडौनी थाना जिले का प्रमुख थाना माना जाता है, जिसे टीआई रैंक का अधिकारी ही संचालित करता है लेकिन इन दिनों कई महीनों से इस थाने को उपनिरीक्षक ही संचालित कर रहे हैं| जिसका खामियाजा बड़े अधिकारियों को भी भुगतना पढ़ रहा है |

मामला बडौनी थाना में पदस्थ राघवेंद्र गुर्जर का है जिसका स्थानांतरण 25 मई 2020 को बडौनी थाना से पुलिस लाइन कर दिया गया था लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी थाना प्रभारी बडौनी द्वारा उसे कार्यमुक्त नहीं किया गया| जबकि इस आदेश के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा किए गए मौखिक आदेश पर बडौनी थाने में पदस्थ आरक्षक मोनेद्र रावत का स्थानांतरण होने पर उसे तुरंत ही कार्यमुक्त कर लाइन भेज दिया गया| अब ऐसी स्थिति में पहले के आदेश पर राघवेंद्र सिंह गुर्जर की रवानगी आज दिनांक तक भी नहीं हो पाई है आखिर क्या पुलिस स्टाफ की कमी के कारण से कार्यमुक्त नहीं किया गया यदि स्टाफ की कमी होती तो पहले अन्य स्टाफ को क्यों कार्य मुक्त किया गया|

बडौनी थाना से जुड़े सवाल तो कई है पर मामला अभी स्थानांतरण से जुड़ा है| अब देखना होगा कि राघवेंद्र गुर्जर को पुलिस अधिकारी रवानगी देते हैं या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here