भांडेर उपचुनाव: पूर्व गृहमंत्री का पत्ता कटा, कांग्रेस ने फूल सिंह बरैया को बनाया प्रत्याशी

दतिया, सत्येंद्र सिंह रावत| मध्यप्रदेश (MadhyaPradesh) में 27 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव (By-election) को लेकर कांग्रेस हाईकमान ने प्रदेश की 15 सीटों पर अपने अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा कर शुक्रवार को पहली सूची जारी कर दी है। जिसमें दतिया जिले की भांडेर (Bhander) आरक्षित सीट से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता फूल सिंह बरैया (Phool Singh Baraiya) को अपना प्रत्याशी बनाया है। इसके अलावा पहली सूची में कांग्रेस पार्टी ने 14 और जिलों के नाम फाइनल किए हैं।

कांग्रेस द्वारा जारी की गई कांग्रेस प्रत्याशियों की पहली सूची से भांडेर विधानसभा क्षेत्र में टिकट की दावेदारी कर रहे कांग्रेसी युवा नेता भानू ठाकुर और पूर्व गृहमंत्री महेन्द्र बौद्ध फूल सिंह बरैया से पीछे रहे गए है और उपचुनाव में फूल सिंह बरैया कांग्रेस का टिकट पाने में सफल रहे हैं।

महेंद्र बौद्ध के लिए जोर लगा रहे थे कई नेता
भांडेर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के संभावित उम्मीदवारों में भानू ठाकुर, महेंद्र बौद्ध और फूल सिंह बरैया प्रबल दावेदारों में शामिल थे। जिसमें फूल सिंह बरैया की संभावना में टिकट को लेकर ज्यादा चर्चाओं का बाजार गर्म था और बरैया के टिकट के पक्ष में जबरदस्त तरीके से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष दामोदर सिंह यादव द्वारा मजबूती के साथ पक्ष रखा जा रहा था। जिसके फलस्वरूप कांग्रेस की जारी की गई लिस्ट में फूल सिंह बरैया का नाम तय कर दिया गया है। वहीं दूसरी तरफ दतिया जिले के स्थानीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सेवड़ा विधायक कुंवर घनश्याम सिंह, पूर्व विधायक राजेंद्र भारती आदि के अलावा तमाम नेताओं द्वारा महेंद्र बौद्ध के पक्ष में हाई कमान से टिकट दिए जाने की मांग की जा रही थी। इस लिहाज से कांग्रेस में टिकट को लेकर पूर्व गृहमंत्री महेंद्र बौद्ध और वरिष्ठ कांग्रेस नेता फूल सिंह बरैया आमने-सामने थे। जिसमें से हाईकमान को एक नाम फाइनल करना था जो आज फूल सिंह बरैया के रूप में सामने आ गया है।

भाजपा बना रही रणनीति
अब देखना होगा कि फूल सिंह बरैया का भांडेर विधानसभा सीट से उपचुनाव के लिए अधिकृत उम्मीदवार बनाए जाने के बाद से कांग्रेस पार्टी के लिए समीकरण किस करवट बैठता हैं और फूल सिंह बरैया का नाम फाइनल होने के बाद भारतीय जनता पार्टी किस प्रकार की रणनीति तैयार करती है। भाजपा की तरफ से संभवतः भांडेर विधानसभा उपचुनाव प्रत्याशी सिंधिया समर्थक रक्षा संतराम सिरोनिया का चुनाव लड़ना ही फाइनल माना जा रहा है| लेकिन इसके बावजूद भी राजनीतिक और आम चर्चाओं की माने तो भांडेर विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी अपने उम्मीदवार को लेकर एक बड़ी रणनीति के साथ सामने आने के पक्ष में है और इसी के चलते भांडेर से संतराम सरवानिया की जगह किसी अन्य व्यक्ति को भाजपा पार्टी अपना उम्मीदवार बना सकती है|

बरैया के खिलाफ सिरोनिया पर पेंच
चर्चाओं पर यकीन करें तो भारतीय जनता पार्टी के पास कांग्रेस पार्टी द्वारा अधिकृत प्रत्याशी के रूप में घोषित किए गए फूल सिंह बरैया का तोड़ संतराम सिरोनिया नहीं हो सकते और न ही फूल सिंह बरैया का संतराम रक्षा द्वारा मुकाबला किया जा सकता है। इसी को लेकर भाजपा खेमे मैं बड़ी-बड़ी बैठकों का दौर जारी है और अपनी रणनीति के तहत 27 विधानसभा सीटों में से कुछ सीटों पर सिंधिया समर्थकों के प्रत्याशी के रूप टिकिट बदलने की संभावना प्रतीत हो रही है। जिसमें भांडेर विधानसभा सीट पर रक्षा संतराम सोनिया का टिकट काटा जा सकता है|

राज्यसभा चुनाव से ही शुरू हो गई थी टिकट की चर्चा
गौरतलब है कि कांग्रेस द्वारा राज्यसभा चुनाव में फूल सिंह बरैया को राज्यसभा उम्मीदवार नही बनाया गया था, जिसको लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर दलित विरोधी होने का तंज कसा था। जिसके बाद से फूल सिंह बरैया को भांडेर से उम्मीदवार बनाये जाने की संभावनाएं ज्यादा चल रही थी। वही कांग्रेस द्वारा कराए गए अपने आंतरिक सर्वे में 27 सीटो पर जीत का दावा कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here