Datia News : रतनगढ़ मंदिर पर लगने वाले मेले को लेकर कलेक्टर व एसपी ने ली बैठक

दतिया, सत्येन्द्र रावत। दतिया (Datia) में माँ रतनगढ़ माता मंदिर (Ratangarh Mata Temple) पर शरदीय नवरात्र एवं दीपावली पर की जाने वाली प्रशासनिक व्यवस्थाओं एवं तैयारियों के संबंध में रतनगढ़ में कलेकटर संजय कुमार की अध्यक्षता में संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में संबंधित विभागों की जबावदेही निर्धारित कर समय-सीमा में तैयारियां सुनिश्चित करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें…1 साल बाद भी नहीं मिला चूहे से कुतरने वाले मामले में पीड़ित परिजनों को इंसाफ, यूनिक हॉस्पिटल अब तक कोई कार्रवाई नहीं

कलेक्टर संजय कुमार ने रतनगढ़ माता मंदिर पर की जाने वाले व्यवस्थाओं पर चर्चा करते हुए कहा रतनगढ़ में सिंध नदी पर स्थित पुल बाढ़ से टूट जाने के कारण पुल पर से आने एवं जाने वालों को परिवर्तित मार्ग से माता मंदिर पहुंचना होगा। इसके लिए ग्वालियर से आने वाले श्रृद्धालु बेहट मार्ग से जबकि इटावा, जालौन, उरई, भिण्ड़ आदि स्थानो से आने वाले लोग खमरौली (मंगरौल) के रास्ते से झांसी, शिवपुरी, गुना, डबरा, पिछोर, दतिया आदि स्थानों से लोग देवगढ़ मार्ग से होकर मंदिर पहुंच सकेंगे। इन स्थानों पर वाहनों की पार्किग की व्यवस्था भी रखी जायेगी। कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सड़कों की मरम्मत का कार्य शुरू कर उन्हें पैदल चलने योग्य बनाया जाए। उन्होंने बताया कि रतनगढ़ में स्थित सिंध पुल टूट जाने के कारण पुल या नदी मार्ग से नाव आदि से आने नहीं दिया जायेगा। इसके लिए विभिन्न स्थानों पर बेरीकेटिंग कर चैक पोस्ट बनाये जायेंगे। जिस पर पुलिस एवं होमगार्ड के जवान सतत् निगरानी रखेंगे। नाव से जाने वालें लोागें के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी।

माँ रतनगढ़ माता मंदिर प्रांगण में बुधवार को आयोजित बैठक में पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौड़, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कमलेश भार्गव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य, सेवढ़ा एसडीएम अनुराग निगवाल, मंदिर के पुजारी राजेश कटारे, सहित संबंधित विभागों के जिला एवं खण्ड़ स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

कलेक्टर ने एसडीएम सेवढ़ा को निर्देश दिए कि लोक निर्माण एवं संबंधित विभागों के सहयोग से वाहन पार्किग के लिए शासकीय भूमि चिन्हित कर लें। आवश्यकता होने पर निजी भू-स्वामियों से चर्चा कर लें। कलेक्टर ने सभी विभागों को निर्देश दिए कि उनके द्वारा जो कार्य किये जायेंगे उनके साथ आकस्मिक योजना भी बनाई जाए जिसका आवश्यकता पड़ने पर उपयोग किया जा सके।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि पैदल मार्ग पर पर्याप्त प्रकाश की व्यवस्था तथा पेयजल की समुचित व्यवस्थायें रखी जाए। श्रृद्धालुओं को किसी भी प्रकार की सूचना एवं जानकारी देने हेतु पीएस सिस्टम की भी व्यवस्था रखी जाए। उन्होंने मोबाइल नेटवर्क सही रूप से काम करें इसके लिए निजी मोबाइल कंपनियों से चर्चा कर टावर लगवायें जाए। कलेक्टर ने मंदिर प्रांगण एवं आस-पास के क्षेत्र में साफ सफाई की व्यवस्था निजी क्षेत्र से कराने, मंदिर की रैलिंग की रंगाई-पुताई कराने के भी निर्देश दिए। बैठक के बाद कलेक्टर ने अधिकारियों के साथ पहुंच मार्गो, वाहन पार्किग स्थलों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया और अधिकारियों को निर्देश दिए।

Datia News : रतनगढ़ मंदिर पर लगने वाले मेले को लेकर कलेक्टर व एसपी ने ली बैठक

यह भी पढ़ें…उमा भारती के शराब बंदी वाले बयान पर बोले दिग्विजय, कही यह बात