सहकारिता कर्मचारी संघ ने दी 4 फरवरी से बेमियादी कलम बंद हड़ताल की चेतावनी

दतिया, सत्येंद्र रावत। सहकारिता कर्मचारियों ने बुधवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर जमकर नारेबाजी की। सहकारी कर्मचारियों ने अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा। इसी के साथ इन्होने चार फरवरी से अनिश्चतकालीन कलम बंद हड़ताल की चेतावनी भी दी है।

उल्लेखनीय है कि बीते सालों में समर्थन मूल्य के अंतर्गत शार्टेज आने को लेकर सहकारी कर्मचारियों पर प्रकरण बनाकर वसूली की कार्रवाई की जा रही है। शासन के द्वारा सहकारिता अधिनियम की धारा 58 बी के तहत कर्मचारियों पर इस बात को लेकर प्रकरण बनाए गए हैं। कर्मचारियों का कहना है कि खरीदी के दौरान आने वाले शार्टेज के लिए प्राकृतिक कारण होते हैं, लेकिन शासन के द्वारा कर्मचारियों को दोषी माना जा रहा है। सहकारिता कर्मचारियों ने नियमितीकरण, वेतन भुगतान करने की मांग, कर्मचारियों पर की गई एफआईआर वापिस लेने, कैडर भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगाने, हटाए गए कर्मचारियों को बहाल करने सहित अन्य मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन दौरान सभी सहकारिता संघ कर्मचारी मौजूद रहे।