अबोध बालक पर चाकुओं से प्राणघातक हमला, इलाज के दौरान मौत

दतिया। सत्येंद्र रावत ।
5 वर्षीय अबोध बालक पर चाकुओं से गोदकर प्राणघातक हमला बोला। स्थानीय लोगों ने बालक को बचाया लेकिन नही बच पायी जान दतिया के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी झांसी रोड पर रहने वाले अनुकल्प भारती पुत्र रामलाल भारती उम्र 5 वर्ष पर प्रवीण पटेरिया पुत्र मुन्नालाल पटेरिया उम्र 25 वर्ष निवासी न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी दतिया ने उस समय चाकुओं से हमला कर दिया था। जब वह दुकान पर कुछ लेने जा रहा था बच्चे की गर्दन चेहरे और सर पर चाकुओं से कई वार कर दिए जिससे बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया था।

ऐसे ही मौके पर स्थानीय लोग हमलावर को एसथानीय लोगों ने हमलावर प्रवीण पटेरिया को पकड़कर कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया है वहीं गंभीर रूप से घायल हुए बच्चे को जिला चिकित्सालय में प्राथमिक उपचार देने के बाद झांसी रेफर कर दिया गया था ..। कश्मीर मैं आईबी के अधिकारी पर चाकुओं से हत्या के बाद दतिया में भी एक ऐसा मामला आया है जिसमें बच्चे के चेहरे पर चाकुओं से कई वार किए हैं आखिर इस बच्चे से हमलावर की क्या दुश्मनी थी और बच्चा तो भगवान का स्वरूप होता है ऐसी स्थिति में ऐसे लोगों को कानून सख्त सख्त सजा देना चाहिए।वहीं कुछ लोगों का कहना है कि हमलावर प्रवीण पटेरिया मानसिक रूप से पीड़ित है यदि पीड़ित था तो घरवालों ने उसे छोड़ा क्यों उसे बांधकर क्यों नहीं रखा गया उसे अपनी निगरानी में रखते तो शायद आज यह स्थिति नहीं आती।