विधायक पति की गुंडागर्दी, SDM से बदसलूकी कर छिना मोबाइल, वीडियो वायरल

दतिया।

एमपी में कांग्रेस की सरकार बनते ही सत्ता का नशा नेताओं के सिर चढ़कर बोल रहा है।आए दिन कांग्रेस नेताओं के अधिकारियों से विवाद के मामले सामने आ रहे है।अब दतिया एसडीएम जे पी गुप्ता और भांडेर विधायक रक्षा सिरोनिया के पति के बीच विवाद का मामला सामने आया है, जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में भांडेर विधायक पति डॉ सन्तराम सरोनिया और  जीतू दांगी दिखाई दे रहे है जो सरेआम एसडीएम पर ट्रैक्टर को छोड़ने के एवज में रिश्वत मांगे जाने का आरोप लगा रहे है।वही वीडियो में कांग्रेस नेता अजय शुक्ला भी एसडीएम पर भाजपा के पूर्व मंत्री के इशारों पर कार्य करने का आरोप लगाते हुए नजर आ रहे है।

दरअसल, बुधवार को एसडीएम जेपी गुप्ता ने कलेक्ट्रेट के सामने गिट्टी से भरा एक ट्रैक्टर पकड़ा था।ड्राइवर ने सुरक्षाकर्मी से रॉयल्टी होने की बात कही लेकिन उसने ट्रैक्टर नहीं छोड़ा। इस पर ड्राइवर ने विधायक के पति संतराम को इसकी सूचना दी। इस पर भांडेर की कांग्रेस विधायक रक्षा सिराैनिया के पति संतराम सिराैनिया  ने एसडीएम को फोन लगाकर ट्रैक्टर छोड़ने को कहा लेकिन उन्होंने मना कर दिया। कुछ देर बाद संतराम कांग्रेस कार्यकर्ता जीतू दांगी, अजय शुक्ला व पांच सात अन्य लोगों के साथ खुद एसडीएम के कक्ष में पहुंच गए। 

इस दौरान विधायक पति ने एसडीएम ऑफिस पहुंच कर ट्रैक्टर छोड़ने के लिए दबाव बनाया है।  एसडीएम ने जब उनकी बात नहीं मानी तो वहां विवाद की स्थिति बन गई। इसपर एसडीएम ने अपने मोबाइल में रिकाॅर्डिंग शुरू कर दी, जिसका विरोध करते हुए विधायक पति ने एसडीएम के हाथ से उनका मोबाइल फोन छीन लिया। विवाद बढ़ता देख मौके पर मौजूद तहसीलदार एसके त्रिपाठी ने कांग्रेस नेताओं को बाहर निकाला और खुद भी बाहर आए। इसके बाद कांग्रेस नेता कलेक्टर ऑफिस की तरफ चले गए।यहां विधायक रक्षा सिरोनिया के पति ने एसडीएम का मोबाइल कलेक्टर को सौंपा , इस दौरान उन्होंने कलेक्टर से एसडीएम की शिकायत भी की। विवाद के दौरान ही विधायक पति जब्त ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट से निकल गए।