जमीन बनी जान की दुश्मन : देवर-भतीजों ने उतारा महिला को मौत के घाट

दतिया।सत्येंद्र रावत ।
जिला मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर सेवड़ा कस्बे के ग्राम खैरीभाट में मात्र 12 बीघा जमीन की लालच में देवर और भतीजे ने मिलकर एक महिला की हत्या कर जगन ने वारदात को अंजाम दिया है। महिला घटना के दौरान अपने खेत पर फसलों में पानी दे रही थी, उसी दौरान महिला के देवर और भतीजे ने मिलकर कुल्हाड़ी से उसकी हत्या कर दी। घटना के पश्चात से सभी आरोपी फरार हो गये है।

पुलिस ने घटना के बाद मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु तलाश प्रारंभ कर दी है। वहीं महिला के शव को सिविल अस्पताल में पीएम कराकर शव परिजनों को सोप दिया है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम 4:00 बजे के लगभग सेवड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम खैरी भाट में मृतक महिला सुनीता पत्नी सोपत सिंह चौहान 45 वर्ष निवासी रोरई थाना आलमपुर जिला भिंड ग्राम खैरी घाट में अपने खेत पर फसल में पानी लगा रही थी कि तभी उसी के परिवार जन एवं मृतक पति के भाई कल्याण सिंह चौहान, सुल्तान सिंह चौहान एवं बलराम सिंह पुत्र सुल्तान सिंहज़ राघवेंद्र सिंह पुत्र कल्याण सिंह और सत्येंद्र सिंह चौहान ने महिला सुनीता चौहान की पानी देते समय कुल्हाड़ी से काट कर हत्या कर दी। कुल्हाड़ी के वार से महिला की मौके पर ही मौत हो गई और हत्या करने के बाद सभी आरोपी घटनास्थल से फरार हो गए।

घटना की सूचना लगने पर सेवड़ा पुलिस ग्राम खैरीभाट घटनास्थल पर पहुंची और जानकारी कर महिला को सिविल हॉस्पिटल पहुंचाया। घटना के पश्चात सभी आरोपियों की तलाश हैतू पुलिस ने जांच प्रारंभ कर दी है और आरोपियों के विरुद्ध मृतक महिला के भांजे की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

12 बीघा जमीन के लिए की गई हत्या
इस हत्याकांड में अधिक जानकारी के अनुसार सामने आया है कि मृतक महिला सुनीता चौहान का अपने परिवारों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। जिसका निराकरण कोर्ट के द्वारा किया जा चुका था। उसके पश्चात भी मृतक महिला के पति की मौत के बाद मृतक महिला के हिस्से में आई पति की 12 बीघा जमीन उसकी जान की दुश्मन बन गई और परिवार के लोग इस जमीन की खातिर मृतक महिला को परेशान करने लगे। जिससे वह परेशान होकर थाना आलमपुर के ग्राम रोरई में अपने भांजे राघवेंद्र सिंह चौहान के साथ रहने लगी थी। कभी-कभी वह सेवड़ा में अपनी जमीन में खेती के लिए आती थी ओर इसी जमीन में खेती कर फसल करती थी। पति की मौत के बाद मृतक महिला की दो बेटियां थी। जिनकी महिला शादी कर चुकी है। मृतक महिला कोई लड़का नही होने के कारण जमीन का वारिश नही होने की वजह से परिवार के लोग और अपने पति के भाई कल्याण सिंह एवं सुल्तान सिंह उसे जमीन देने के लिए परेशान करने लगे थे, लेकिन वह यह जमीन किसी हाल में इन लोगों को देने के लिए राजी नहीं थी। जिसकी वजह शुक्रवार के दिन महिला को इस जमीन की खातिर मौत के घाट उतार दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here