दतिया, सत्येन्द्र रावत। भाजपा के वरिष्ठ नेता अवधेश नायक का रुपयों के लेन देन को लेकर विवाद का मामला सामने आ रहा हैं। दिवंगत बिलहारी सरपंच महेश शिवहरे की पत्नी शांति शिवहरे ने भाजपा नेता व पूर्व पाठ्य पुस्तक निगम उपाध्यक्ष अवधेश नायक पर तीन लाख रुपये नहीं लौटाने का आरोप लगाया है। आरोप लगने के बाद राजनैतिक गलियारों में हलचल मच गई है। वहीं महिला ने पैसे न मिलने पर पुलिस में जाने की बात कही है।

आबकारी विभाग ने साढ़े 11 लाख की कच्ची शराब जब्त की, आरोपी भागने में कामयाब

दिवंगत सरपंच की पत्नी शांति शिवहरे ने एक वीडियो के माध्यम से अपनी बात कही, उन्होने बताया कि मरने से पूर्व उनके पति उन्हें भाजपा नेता अवधेश नायक से पत्तियों के पैसे के लेन देन के बारे बता गए थे। जिसके बाद वो दतिया पहुंची और अवधेश नायक से तीन पत्तियों के करीब तीन लाख रुपयो की मांग की। उन्होने आरोप लगाया कि इस मामले में बीजेपी नेता ने उन्हें गुमराह कर कहा कि आपके पति द्वारा डाली गई पत्तियों के रुपये वो ले गए थे। जबकि ऐसा नहीं है, और उनके मेरे पति ने आखिरी वक्त बताया था कि अवधेश नायक से तीन लाख रुपये लेना है। तब पत्तियां उठाई नहीं थी। लेकिन अब शांति शिवहरे को उनके पति द्वारा डाली गई पत्तियों के पैसे नही दिये जा रहे है।

शांति शिवहरे का कहना है कि घर में मुखिया की मौत होने के बाद से वह ओर उनका परिवार परेशानी से गुजर रहा है। उन्होने बताया है कि उनके पति ने अवधेश नायक के पास तीन पत्तियां डाली थीं। जिसमे एक एक दो लाख की एवं एक डेढ़ लाख की पत्ती थी। जिसका करीब तीन लाख रुपये बनता है, वो अब महेश शिवहरे की मौत होने के बाद नहीं दिया जा रहा है। उन्होने कहा कि रुपये नही देने की स्थिति में वो पुलिस की शरण में जाएंगी। बता दे कि सरपंच महेश शिवहरे की कोरोना संक्रमण से बीमार होने के कारण मौत गई थी। वहीं इस बीमारी ने भाई अवधेश शिवहरे को भी काल के गाल में खींच लिया था।