अवैध रेत खनन पर एक्शन, नदी से रेत निकाल रहीं तीन पनडुब्बी नष्ट

तीन विभागों की संयुक्त कार्रवाई के बाद से रेत माफिया में हड़कंप मचा हुआ है।

दतिया, सत्येन्द्र रावत। अवैध रेत खनन (illegal sand mining)  पर मुख्यमंत्री शिवराज शिवराज सिंह चौहान के निर्देश के बाद सख्त हुई सरकार का असर दिखाई देने लगा है। जिला प्रशासन के अधिकारियों को अवैध रेत खनन सूचना मिले पर वे तत्काल एक्शन लेने लगे हैं।  दतिया जिला प्रशासन को पहुज नदी में पनडुब्बी डालकर अवैध रेत खनन की सूचना मिलने पर तीन विभागों की संयुक्त टीम ने पनडुब्बियों को नष्ट कर दिया।

दतिया जिला प्रशासन को मंगलवार को सूचना मिली थी कुछ रेत माफिया उनाव थाना क्षेत्र में पहुज नदी के गाड़ी घाट पर पनडुब्बियां डालकर अवैध रूप से रेत निकाल रहे हैं।  प्रशासन ने सूचना के बाद वन विभाग, माइनिंग विभाग और पुलिस की संयुक्त टीम बनाई और छापा मार कार्रवाई की।

ये भी पढ़ें – MP Corona: आज 14 पॉजिटिव, 20 दिन में 302 केस, CM बोले- जनवरी में तीसरी लहर के आसार

डीएफओ बृजेन्द्र श्रीवास्तव के निर्देशन में मंगलवार देर शाम वन परिक्षेत्र अधिकारी शैलेंद्र गुर्जर, उनाव थाना प्रभारी अमर सिंह गुर्जर और माइनिंग टीम ने एक साथ छापामार कार्रवाई की गई। छापे की खबर मिलते ही रेत का अवैध उत्खनन कर रहे माफिया जान बचाकर भाग निकले। संयुक्त टीम के अधिकारियों ने मौके पर मिली तीनों पनडुब्बियों को जेसीबी मशीन से नष्ट कर दिया और पनडुब्बी जब्त कर संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : चांदी की कीमत में उछाल, सोना मिल रहा पुराने रेट पर

गौरतलब है कि विगत दिनों दतिया जिले के सेवढ़ा रेज अंतर्गत लांच बीट में ग्वालियर की तरफ से पनडुब्बी डाल कर अवैध खनन करने वालों के विरुद्ध भी वन परिक्षेत्र अधिकारी शैलेन्द्र गुर्जर ने वन अमले के साथ पनडुब्बी को जप्त कर नष्ट किया। लगातार वन विभाग अधिकारियों के निर्देश में ताबड़तोड़ कार्रवाई से रेत माफिया में हड़कंप मचा हुआ है।  ।