देवास में 2 नए कोरोना मरीज, 586 सैंपल में से 584 नेगेटिव, कलेक्टर ने की ये अपील

परिवहन विभाग

देवास, सोमेश उपाध्याय। एक बार फिर कोरोना (corona) के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए प्रशासन एक्टिव मोड में आ चुका है। देवास इंदौर से सटा है और इस कारण प्रशासन के लिए चिंता का विषय बन गया। वही गुरूवार को देवास जिले में प्राप्‍त 586 सैम्पल की रिपोर्ट में से 584 सैम्पल की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है तथा 02 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव (corona positive) आई। अब तक जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 04 है।

जिले में गुरूवार को तक 01 लाख 3 हजार 324 सैंपल लिए गए, जिनमें लैब से 01 लाख 3 हजार 133 सैंपलों की रिर्पोट प्राप्त हुई। जिसमें आज तक 99 हजार 664 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई। जिले में अभी तक कुल 2976 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हुए तथा अभी तक 2945 कोरोना संक्रमित मरीज उपचार उपरांत करोना संक्रमण से मुक्त हुए। जिले में अब तक का कोविड-19 रिकवरी रेट 98.96 प्रतिशत है तथा मोर्टीलिटी(मृत्युदर) 0.91 प्रतिशत है।

वही कोरोना की बढ़ती रफ़्तार को देखते हुए कलेक्‍टर चन्‍द्रमौली शुक्‍ला ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि कोरोना वायरस कोविड-19 वैश्विक महामारी के वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करते हुए मास्क का उपयोग अनिवार्यतः करें। आस-पास के जिलों में कोरोना संक्रमित मरीजों में वृद्धि हुई है, जिससे हमे भी सतर्क रहने की आवश्‍यकता है। यदि किसी को सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में परेशानी हो रही है तो बिना किसी देरी के तुरंत ही नजदीक के फीवर क्लीनिक या शासकीय स्वास्थ्य संस्था में पहुंचकर स्वास्थ्य परीक्षण कराएं एवं अपना सेम्पल देकर कोरोना वायरस की जांच कराएं। सदैव मास्क का उपयोग करें, नियमित अंतराल पर अपने हाथो को साफ पानी एवं साबुन या सेनेटाइजर से साफ करें। इससे आप स्वंय को अपने बुर्जुग माता-पिता, अपने छोटे-छोटे बच्चो को स्वस्थ एवं सुरक्षित रखते हुए कोरोना बीमारी पर विजय प्राप्त कर सकेंगे।

दस वर्ष तक के बच्चों तथा वृद्धजनों एवं गंभीर बीमारियां जैसे हृदय रोग, कैंसर, डायबिटिज, टीबी, किडनी रोग, लीवर रोग से पीडित व्यक्तियों में बीमारी का खतरा अधिक होता है अतः ऐसे व्यक्ति विशेषज्ञ चिकित्सकों से अपना नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराकर दवाओं का सेवन नियमित रूप से करते रहें। किसी भी प्रकार की अफवाह में ना आएं ना ही अफवाह फैलाएं, घबराएं नहीं सावधानी ही सुरक्षा है।