मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजन ने स्ट्रांग रूम का निरीक्षण कर तैयारियों का लिया जायजा, कलेक्टर को दिए आवश्यक निर्देश

dewas news

MP Election 2023 : मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुपम राजन ने आज देवास में मतगणना की तैयारियों का जायज़ा लिया। राजन ने देवास में मतगणना स्थल केन्‍द्रीय विद्यालय बैंक नोट प्रेस पहुँचकर आगामी 3 दिसंबर को जिले की पांच विधानसभा क्षेत्रों के लिए होने वाली मतगणना के लिए की गई तैयारियों का बारीकी से निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ऋषव गुप्‍ता ने केन्‍द्रीय विद्यालय बैंक नोट प्रेस में मतगणना के लिए की जा रही तैयारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान एसपी संपत उपाध्याय, सीईओ जिला पंचायत हिमांशु प्रजापति, अपर कलेक्टर प्रवीण फुलपगारे, एसडीएम देवास बिहारी सिंह, उप‍ जिला निर्वाचन अधिकारी प्रियंका मिमरोट सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

मतगणना की तैयारियों का लिया जायज़ा

मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजन ने विधानसभावार बनाए गए मतगणना कक्षों में जाकर तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान कलेक्टर गुप्ता ने बताया कि देवास व हाटपीपल्या विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना केंद्रीय विद्यालय भू-तल पर स्थित अलग-अलग हॉल में की जाएगी। वहीं सोनकच्छ, खातेगांव व बागली विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना प्रथम तल स्थित कक्षों में की जाएगी। राजन ने डाक मतपत्रों की गणना के लिए की जा रही तैयारियों, स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था को भी देखा। उन्होंने मतगणना टेबल, मतगणना कार्य में संलग्न अधिकारी/कर्मचारियों की संख्या, सुरक्षा व्यवस्था, डाक मतपत्रों की संख्या के संबंध में जानकारी ली।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजन ने केन्‍द्रीय विद्यालय बैंक नोट प्रेस देवास में बनाये गये कंट्रोल रूम का भी निरीक्षण किया। साथ ही मतगणना स्थल परिसर में रूके हुए निर्वाचन अभ्यर्थियों के प्रतिनिधियों से चर्चा की तथा सीसीटीवी के माध्यम से कक्ष से ही स्ट्रांग रूम की मॉनीटरिंग संबंधी व्यवस्था को देखा। निरीक्षण के दौरान राजन ने मतगणना व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।

देवास से सोमेश उपाध्याय की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News