देवास : भाजपा के गढ़ में सेंध, जिला पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा, लीला अटारिया बनी अध्यक्ष

कांग्रेस के रघुवीर सिंह बघेल निर्विरोध बने उपाध्यक्ष

देवास,सोमेश उपाध्याय। देवास (dewas) जिले की जनपदों के बाद जिला पंचायत में भी भाजपा का सफ़ाया हो गया।आज आए परिणामो में कांग्रेस की अधिकृत प्रत्याशी लीला बाई अटारिया को 18 में से 11 मत मिले।भाजपा प्रत्याशी सौरम बाई मालवीय को 6 मत ही मिल सके। 1 मत निरस्त हो गया था। हालांकि कांग्रेस के अधिकृत सदस्य अधिक होने से जिला पंचायत कांग्रेस की तय मानी जा रही थी।

देवास : भाजपा के गढ़ में सेंध, जिला पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा, लीला अटारिया बनी अध्यक्ष

बावजूद भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव खंडेलवाल अपनी जीत का दांवा कर रहे थे।जिला पंचायत में कांग्रेस के खाते में जाने के बाद भाजपा की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। पूर्व सीएम कमलनाथ के करीबी सज्जन सिंह वर्मा की रणनीति से ही देवास जिले में पंचायत चुनाव लड़े गए थे। बागली जनपद में पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव का खेमा सक्रिय था, तो जिले में सज्जन सिंह वर्मा अपने करीबियों के लिए किला लड़ाते नजर आए। कांग्रेस पूरे चुनाव में एकजुट दिखी।

देवास : भाजपा के गढ़ में सेंध, जिला पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा, लीला अटारिया बनी अध्यक्ष

अध्यक्ष के बाद उपाध्यक्ष के चुनाव में भाजपा ने अपना प्रत्याशी सुशीला बहादुर सिंह व कांग्रेस से रघुवीर सिंह बघेल थे।बघेल 6 मतों से विजय हुए। बघेल को 12 मत व भाजपा की सुशीला बाई को मात्र 6 मत मिले। बघेल पूर्व विधायक स्व.राजेन्द्र सिंह बघेल के पुत्र व हाटपिपल्या से विधानसभा प्रत्याशी रहे राजवीर सिंह बघेल के भाई है।