Dewas News : मंत्री पटेल का अनूठा अंदाज, कुंड किनारे गंदगी देख शुरू की सफ़ाई, बोले – जल संवर्धन आश्वासन नही संकल्प

जल स्रोतों के पास कौन से पौधे लगाये जायें, जो जल के स्रोत को प्रवाहमान बनाये रख सकें इसके लिए हमें उन पौधों की जानकारी भी हो। ऐसी सूची बनाकर लोगों तक पहुँचाएँ, जिससे लोगों को पता चल सके।

Amit Sengar
Published on -
prahalad patel

Dewas News : पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने जल-गंगा संवर्धन अभियान के अंतर्गत मानस यात्रा की शुरुआत की है। वे नदियों के उद्गम स्थल पर जाकर वृक्षारोपण का कार्य कर रहे हैं। मंत्री पटेल इसी अभियान अंतर्गत आज बुधवार को देवास जिले के बागली पहुंचे। मंत्री पटेल ने बागली के निकट प्रसिद्ध जटाशंकर तीर्थ पर भगवान श्री जटाशंकर महादेव का पूजन अभिषेक उपरांत तीर्थ क्षेत्र से निकलने वाली खारी (जटाशंकरी नदी) पर श्रमदान किया। तत्पश्चात कालीसिंध नदी के उद्गम स्थल अमोदिया में भी पूजन अर्चन कर आम जनता से संवाद किया। मंत्री पटेल ने कहा कि हम सभी को जल स्रोतों को संरक्षित एवं संवर्धन करने का कार्य करना चाहिए।

मंत्री पटेल ने कहा कि जल स्रोतों के पास कौन से पौधे लगाये जायें, जो जल के स्रोत को प्रवाहमान बनाये रख सकें इसके लिए हमें उन पौधों की जानकारी भी हो। ऐसी सूची बनाकर लोगों तक पहुँचाएँ, जिससे लोगों को पता चल सके। बरसात के पानी का संरक्षण वर्तमान समय की आवश्यकता है। यह भू-जल स्तर वृद्धि में सहायक सिद्ध होगा। मंत्री पटेल ने जानकारी देते हुए कहा कि जल स्रोतों के पास बहेड़ा, हर, आम, महूआ, नीम, खिन्नी, सेमर, बांस, बेल, केत आदि प्रकार के पेड़ लगाये जाये। इसके पूर्व जिलाध्यक्ष राजीव खंडेलवाल, बागली विधायक मुरली भंवरा, मनोज चौधरी ने भी संबोधित कर जल संवर्धन का महत्व बताया। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष लीला बाई अटारिया, नगर परिषद अध्यक्ष सीमा कमल यादव, मंडल अध्यक्ष टिकेंद्र प्रताप सिंह,सरपंच अर्जुन भंवरा आदि सहित सीईओ जिला पंचायत हिमांशु प्रजापति, एसडीएम आनंद मालवीय, ग्राम पंचायत सरपंच सहित जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

मूल्यांकन दूसरे का नही स्वयं का जरूरी : पटेल

मंत्री पटेल ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि नदी का पानी लाखों लोगों को संपन्नता देता है,लेकिन नदी जहा से निकली है उसकी हालत क्या है। उसका स्त्रोत देखे जिसने कितनी ही संस्कृतियों को मजबूत किया।यदि वह स्त्रोत कमजोर होगा तो संस्कृति और जीवन शैली भी कमजोर होंगी। इसलिए नदी के स्त्रोत तक पहुंच उनके उन्नयन के लिए हम संकल्पित हो कर काम करेंगे।

पूर्व सीएम जोशी को किया याद

मंत्री पटेल ने बागली पहुंचने पर प्रदेश के पूर्व सीएम रहे स्व.कैलाश जोशी की प्रतिमा स्थल पर माल्यार्पण कर नमन किया। पटेल ने कहा कि स्व.जोशी ईमानदार और सेधांतिक नेता थे, जनसंघ से लेकर भाजपा की मजबूती के लिए हमारे जैसे अनेक कार्यकर्ताओ ने उनके मार्गदर्शन में कार्य किया।
देवास/बागली से सोमेश उपाध्याय की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News