बारिश की भेंट चढ़ी सोयाबीन, दुःखी किसान ने जलाई फसल की होली

देवास,सोमेश उपाध्याय। मध्यप्रदेश में पहले बारिश न होने फिर सोयाबीन फसल में पीला मोजक लगने और अब भारी बारिश होने से सोयाबीन की फसल पूरी तरह से बर्बाद होने की कगार पर है। सोयाबीन की फसल बर्बाद होने से किसानों की चिंता बढ़ गई है और फसल के इस तरह से बर्बाद होने से किसान काफी दुखी हैं। फ़सल में फली नहीं लगने से दुःखी किसान रूप सिंह जायसवाल ने कुपगाव स्थित 12 बीघा खेत में लगीं सोयाबीन की फसल की होली जला दी।

MP Breaking News

किसान का कहना है कि इस साल उन्होंने महंगा बीज लाकर बोवनी की थी। सीजन में प्रारंभ से ही संकट छाया रहा। बारिश की खेंच के कारण फसलें प्रभावित रहीं, अब सभी क्षेत्रों में कुछ बारिश हुई तो बीमारियों ने फसलों को घेर लिया। बीमारी के कारण फसलें पीली हो गई हैं और सूखने भी लगी हैं। किसानों का कहना है कि जल्द मुआवजा मिलना चाहिए ताकि आगामी सीजन में किसानों को परेशानी न हो। बता दें कि सोयाबीन की फसल बर्बाद होने के भारतीय किसान संघ ने ज्ञापन दे कर मुआवजे की भी मांग की है।

 

वहीं देवास के भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष गोवर्धनलाल पाटीदार का कहना है कि अतिवृष्टि होने से किसानों की फसलें लगभग बर्बाद हो चुकी है। सोयाबीन में फली ही नहीं है, जिससे पूरे क्षेत्र के किसान परेशान हैं। हमने शाशन से मुवावजे की मांग करी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here