अंधे कत्ल का खुला राज, पति के दोस्त और पत्नी ने मिलकर रची थी हत्या की साजिश

देवास| देवास के बीराखेड़ी में 19 अक्टूबर को हुए अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझ गई है| मृतक की पहचान होने के बाद पुलिस को इस कत्ल के पीछे की साजिश का भी पता चल गया | कत्ल की योजना करवा चौथ के दिन बनाई गई थी| इस साजिश को रचने वाले भी कोई और नहीं बल्कि मृतक के अपने ही लोग थे|  मृतक की पत्नी और उसके करीबी दोस्त ने मिलकर मर्डर की प्लानिंग की थी| 

दरअसल मृतक की पत्नी के साथ उसके दोस्त के नाजायत ताल्लुकात थे और इसीलिए हत्या की ये साजिश रची गई थी| बीराखेड़ी में 19 अक्टूबर को खेत में हुए अंधे कत्ल का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। मृतक की शिनाख्त होने के साथ ही हत्याकांड का राज खुले गया । पप्पू उर्फ अंतरसिंह निवासी ग्राम टूगनी, क्षेत्र पीपलरावां (हाल मुकाम शान्तिपुरा) की हत्या हुई थी। पत्नी के ही प्रेमी ने पप्पू की हत्या की थी । दोनों दोस्तों ने पहले ढाबे पर बैठकर साथ शराब पी। फिर दोस्त ने ही बीराखेड़ी के पास एक खेत में ले जाकर पत्थर से कुचल कर पप्पू की हत्या  कर दी थी। 

जांच में यह मामला आया कि आरोपी विजेंद्र मीणा और मृतक की पत्नी ने हत्या की साजिश  रची थी और साक्ष्य मिटाने के लिए  आरोपी विजेंद्र मीणा पहचान के सारे दस्तावेज भी जेब से निकाल ले गया था। मृतक और आरोपी दोनों अच्छे दोस्त भी थे। शराब हमेशा साथ पीते थे। आरोपी विजेंद्र मीणा और मृतक की पत्नी दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दोनों में प्रेम सम्बंध था। पत्नी ने मारपीट से तंग आकर प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश  रची थी । देवास SP चन्द्रशेखर सोलंकी ने हत्याकांड का खुलासा किया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here