खबर का असर: जीवित शिशु को मृत बताने वाले मामले में जाँच शुरू

मौत

देवास/बागली।सोमेश उपाध्याय।

देवास जिले की बागली विधानसभा के सतवास नगर में गत दिनों जीवित शिशु को मृत बताकर पन्नी में सोपने के आरोप सतवास में पदस्थ चिकित्सक मेघा पटेल पर लगे थे।जिसकी ख़बर एमपी ब्रेकिंग में प्रमुखता से लगाई गई थी।आरम्भ में जिला प्रसासन ने मामले में रुचि नही दिखाई।परन्तु खबर के फैलते ही मामले की गम्भीरता को समझते हुए जिला प्रसाशन ने जांच शुरु की। देवास कलेक्टर डॉ श्रीकांत पांडेय द्वारा जांच दल का गठन कर सतवास भेजा गया।जहा बच्चे की माँ,परिजन व अन्य उपस्थित लोगों के बयान लिए गए !करीब 5 घण्टे चली पूछतांछ के बाद यह रिपोर्ट कलेक्टर को सौपी जाएगी।हालांकि उन्होंने भी इसे गम्भीर लापरवाही समझा है!जाँच दल में सीबीएमो विष्णुलता उइके,सुनील तिवारी समेत प्रसाशनिक अधिकारी शामिल थे।

लापरवाही: डॉक्टर ने जिंदा बच्चे को किया मृत घोषित, पन्नी में लपेट सौंपा, परिजनों का हंगामा