मांग पूरी नहीं होने पर फिर हड़ताल पर बैठे मंडी कर्मचारी, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

बागली, सोमेश उपाध्याय। मॉडल एक्ट लागू होने के बाद वेतन-भत्ते और पेंशन को लेकर परेशान मंडी कर्मचारियों की मांग शासन के आश्वासन के बाद भी पूरी नहीं हुई। मांग पूरी न होने से नाराज मंडी कर्मचारियों के संयुक्त संघर्ष मोर्चा संघ भोपाल के आह्वान पर फिर से हड़ताल शुरू कर दी है।

कर्मचारियों ने कृषि उपज मंडी पर गेट के सामने धरना देकर नारेबाजी की। बागली मंडी कर्मचारी प्रताप सिंह डॉबी ने बताया कि 6 सितंबर को प्रदेश शासन की ओर से आश्वासन मिला था कि मंडी कर्मचारियों की मांगों का निराकरण 15 दिन के भीतर कर दिया जाएगा। हमारी मुख्य मांग यह है कि कर्मचारी और अधिकारियों के वेतन-भत्ते और पेंशन सुनिश्चित की जाएं। मंडी मॉडल एक्ट लागू होने के बाद कर्मचारियों का भविष्य अंधकार में हैं। जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं होगी हड़ताल और धरना आंदोलन जारी रहेगा। कर्मचारियों ने एसडीएम अरविंद चौहान को ज्ञापन भी सौपा। हड़ताल में प्रभारी सचिव भंवर सिंह पटेल , दीपक कलम, गोवर्धन सिंह राजपूत ,केसर सिंह गोयल,राजेंद्र कुमार पाठक आदि कर्मचारी शामिल है।