उपचुनाव : कमलनाथ की सभा में गरमाया ‘बागली’ का मुद्दा, अरुण यादव ने किया ये बड़ा दावा

प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ कई आदिवासी नेताओं के साथ बागली विधानसभा में पुंजापुरा पहुंचे। यहां उन्होंने जनता को सम्बोधित करते हुए शिवराज सरकार पर निशाना साधा।

देवास/बागली, सोमेश उपाध्याय। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) की खण्डवा लोकसभा (Khandwa loksabha) में दोनो दलों द्वारा जीत की जंग जारी है। कांग्रेस और भाजपा पूरे दम-खम के साथ चुनावी प्रचार के मैदान में कूदी हुई हैं। दोनों ही दल एक दूसरे पर निशाना साधने में कोई कसर नही छोड़ रहे हैं।

ये भी पढ़ें- Gwalior News : पुलिस चैक कर रही बस ड्रायवर कंडक्टर की वर्दी, नहीं दिख रही जाम लगाती बसें  

इसी कड़ी में आज खण्डवा लोकसभा अंतर्गत बागली विधानसभा में पूर्व सीएम कमलनाथ आदिवासी मतदाताओं को लुभाने कई आदिवासी नेताओं के साथ पुंजापुरा पहुंचे। यहां जनता को सम्बोधित करते हुए पीसीसी चीफ़ कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा और कहा कि बागली इकलौता क्षेत्र है जहां 60 सालों से विधानसभा में कांग्रेस को एक बार ही मौका मिला है। 60 वर्षो में रोजगार गायब है, नर्मदा है पर पानी नहीं है, शिवराज कब आखिर तक झूठ बोलेंग। उन्होंने आगे कहा कि, मैंने कभी कोई घोषणा में विश्वास नहीं किया। कांग्रेस के किसानों की कर्ज माफी, शुद्ध का युद्ध, माफिया के खिलाफ मुहिम, 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली देने जैसे काम आपके सामने हैं। तो वहीं भाजपा सरकार की नाकामी के वजह से कोरोना काल में बुरहानपुर में 1625, खंडवा 4000, खरगोन 6 हजार और देवास में 7 हजार मौतें हुई हैं। मरीज आक्सीजन और इलाज को तरस गए। कोरोना से मरने वालों के परिवारों को सरकार कम से कम मुआवजा ही दे दें।

ये भी पढ़ें- SAHARA पैराबैंकिंग कंपनी के विरोध में कांग्रेस निकालेगी कैंडल मार्च

वहीं सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व केंद्रिय मंत्री अरुण यादव ने कहा कि 60 साल तक कैलाश जोशी जी को वोट देने के बावजूद बागली का हाल बेहाल है। यह इलाका सिंचाई में भी सबसे पीछे है। यहां का पानी हाटपिपल्या, शाजापुर, उज्जैन और देवास चला गया पर यहां की जनता पड़ोस में नर्मदा होने के बाद भी तरसती रही। यादव ने कमलनाथ से आगृह किया कि यदि 2023 में कांग्रेस को मौका मिलता है तो बागली को जिला बनाना है और क्षेत्र में सिंचाई की व्यवस्था सुचारू करनी है। यादव ने सीएम पर तंज कसते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पिछले 15 वर्षों से बागली को जिला बनाने की घोषणा हर चुनाव में करते है, लेकिन कभी जिला नहीं बताते है। इस दौरान यादव ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से बूथ स्तर पर मेहनत करने की अपील की।

इस दौरान कांग्रेस प्रत्याशी ठाकुर राजनारायण सिंह पुरनी, पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह, सज्जन सिंह वर्मा समेत अन्य दिग्गज नेताओं और विधायकों ने सभा को सम्बोधित किया।