MP की अनोखी शादी, भोजन में सबकुछ देशी, सब्जी से लेकर मशाले तक जैविक, अर्जुन की छाल से बनी चाय

Astrology Zodiac Sign

MP News : वर्तमान दौर मे सब्जी से लेकर फसल तक कैमिकल से तैयार हो रही है।ऐसे मे पूर्णतः देशी भोजन की कल्पना ही नही की जा सकती है।परन्तु देवास जिले के बावड़ीखेड़ा में सम्पन्न हुआ एक विवाह समारोह अपने आप मे अनोखा बन गया। इस विवाह में वैवाहिक रस्मे तो सामान्य ही थी लेकिन मेहमान-मेजबानों ने जो भोजन किया संभवत: ऐसा पहले किसी शादी में नहीं बना होगा। वैवाहिक भोजन की पूरी रशोई में सब कुछ मालवा के शुद्ध देसी अंदाज़ का तैयार किया हुआ था। यहा चटनी से लेकर दाल और नमक से लेकर हल्दी तक,सभी केमिकल रहित यानी शुद्ध जैविक थे। बावड़ीखेडा में निर्मला मुकाती एव.अर्जुन का विवाह अपने आप मे अनोखा बन गया।

40 किसानों के सहयोग से तैयार किया जैविक भोजन

यहां मेहमानों को परोसा गया भोजन करीब 40 किसानों के सहयोग से तैयार किया गया था।किसानों द्वारा तैयार किए गए जैविक उत्पादों का प्रयोग ही रशोई में किया गया।रशोई में भी मालवा के ही देशी व्यंजनों का चयन किया गया।दाल-बाफला,चटनी व मिठाई भी शुद्ध देशी गुड़ की बनाई गई थी। दीप ज्योति जैविक किसान प्रोड्यूसर कम्पनी के सहयोग से ही जैविक सामग्रियों का एकत्रीकरण हो सका।

देशी गाय के गोबर से लीपा पांडाल,अर्जुन छाल की बनी चाय

पांडाल को कीटाणु रहित बनाने के लिए देशी गाय के गोबर से लीपा गया।वही पत्तल भी खाकरे के पत्ते कि व चाय कप भी देशी मिट्टी के कुल्हड़ में पिलाई गई। दीप ज्योति के सीईओ दीपक राव व डायरेक्टर दीपक सुल्तानिया ने बताया कि पूरे आयोजन में सब्जी से लेकर मशाले तक जैविक पद्धति से तैयार थे।यहां तक कि दाल भी देशी घट्टी में तैयार हुई थी।

MP की अनोखी शादी, भोजन में सबकुछ देशी, सब्जी से लेकर मशाले तक जैविक, अर्जुन की छाल से बनी चाय

ऑर्गनिक खेती को बढ़ावा देने के उद्देश्य से की पहल

रसायनिक खेती से स्वास्थ्य को हो रहे नुकसान को दृष्टिगत अपनी पुरानी पारम्परिक जैविक खेती को बढ़ावा देने के उद्द्देश्य से ही दीप जैविक किसान प्रोड्यूसर कंपनी का गठन किया गया।जिसमें 11 डायरेक्टर सहित कुल 550 सदस्य है।आयोजन का मुख्य उद्देश्य किसानों को प्राकृतिक जीवन शैली को अपना कर धरती को उपजाऊ व फ़सल जहर मुक्त बनाने की प्रेरणा देना था। आयोजकों के अनुसार यह देश की पहली जैविक शादी थी,जिसके करीब 1500 मेहमान साक्षी बने। अब यह विवाह पूरे जिले मे चर्चा का विषय बना हुआ है।
देवास से सोमेश उपाध्याय की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News