संक्रमित बीजेपी नेता के संपर्क में आए सांसद,उनके कॉन्टेक्ट में आए हजार लोग,सांसद होम क्वारंटाइन

देवास/सोमेश उपाध्याय

देवास (dewas) में बीजेपी नेता (bjp leader) के कोरोना पॉजिटिव (corona positive) आने के बाद इलाके में हड़कंप है। बता दें कि मंगलवार को सोनकच्छ विधानसभा के पिपलानी से भाजपा नेता की रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद से ही क्षेत्र में दशहत का माहौल है। इस भाजपा नेता की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री में देवास-शाजापुर क्षेत्र के सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी (MP Mahendra singh solanki), पूर्व पाठ्य पुस्तक निगम अध्यक्ष रायसिंह सेंधव व अन्य लोग भी शामिल थे। भाजपा नेता की रिपोर्ट पॉजिटिव आने की जानकारी मिलने के बाद सांसद महेंद्र सिंह सोंलकी ने खुद कलेक्टर डॉ श्रीकांत पांडेय को फोन कर संक्रमित बीजेपी नेता से अपनी मुलाकात की जानकारी दी और इसके बाद सांसद ने खुद को होम क्वारंटाइन (home qurantine) कर लिया है। उनके साथ बाकी लोग भी जिला स्वास्थ्य अधिकारी की मौजूदगी में जांच के बाद होम क्वारेंटाइन हो गए हैं।

जिला स्वास्थ्य विभाग ने सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी (MP) से कांटेक्ट हिस्ट्री मांगी है। सबसे बड़ा विषय यह उभर के आया है कि सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी का करीब 5 जिलों में प्रतिनिधि दौरा कार्यक्रम था जिसमें देवास सहित शाजापुर, सीहोर, आगर मालवा व इंदौर शामिल है। प्रोटोकॉल के अनुसार जानकारी देते हुए सांसद ने करीब 1000 लोगों से अधिक नाम की लिस्ट की तैयार की है। कांटेक्ट हिस्ट्री में प्रशासनिक अधिकारी, भाजपा के नेता, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी सहित कई सामाजिक संस्था के समाजसेवियों के नाम भी शामिल हैं। सांसद सभी जिलों में कई क्षेत्रों मैं अपने कार्यक्रम के दौरान सुरक्षा व्यवस्थाओं को देखने के साथ ही सामाजिक संस्थाओं का हौसला बढा़ने भी गए थे। फिलहाल खुद को क्वारेंटाइन करने के बाद सांसद भी अपनी जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन इस जानकारी के सामने आने के बाद से देवास भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ संपर्क में आए सभी सामाजिक संस्थाओं और व्यक्तियों में भी चिंता देखी जा रही है। सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी के परिवार में भी चिंता बनी हुई है।

मीडिया के सवालों पर सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने जानकारी देते हुए बताया कि मैं 11 दिनों पहले सोनकच्छ में संक्रमित भाजपा नेता के संपर्क में आया था उसके बाद से कई दौरा कार्यक्रम हुए हैं। इन कार्यक्रमों में भाजपा के भी कई लोगों से मुलाकात हुई है। मैं सुरक्षा व्यवस्थाओं पर पूरा ध्यान देता आया हूं और कोरोना संक्रमण से बचाव के सारे उपायों को समझते हुए अपनी प्रतिदिन प्रक्रिया को निभाता आया हूं। मैंने जिला कलेक्टर को सूचना देकर अपनी जांच कराने के बाद खुद को सभी से अलग कर लिया है। बरहाल जब तक सांसद की रिपोर्ट नही आती है जब तक सांसद सहित उनकी कॉन्टेक्ट हिस्ट्री में आए सभी लोगो की चिंता बरकरार रहेगी।