सगा भाई ही निकला बहन का हत्यारा, बदनामी से बचने बहन को कुल्हाड़ी से मारा

देवास/सोमेश उपाध्याय

पिछले दिनों देवास जिले के कन्नौद में मिले महिला के शव को लेकर क्षेत्र में सनसनी फेल गई थी। परंतु पुलिस की संक्रियता से केवल चार दिनों में ही मामला सुलझा लिया गया है।महिला का हत्यारा कोई और नही बल्कि उसका सगा भाई ही निकला।

दरअसल योगेन्द्र के खेत पर खेतिहर मजदूर (हाली) संजू उसकी बहन भूरिबाई और छोटा भाई लोकेश काम करते थे। ये तीनों ही खेत पर हाली का काम करने लगे थे। 14 मई को संजू ने अपनी बहन भूरिबाई मोबाइल पर किसी के साथ जाने की चर्चा कर रही थी। ये बात वो दो दिन से कर रही थी जिसे उसके भाई संजू ने सुन लिया। इसके बाद आरोपी ने अपनी बहन के चरित्र को लेकर समाज मे बदनामी न हो इसे लेकर सोते समय अपनी बहन को कुल्हाड़ी से लगातार 4 – 5 वार कर हत्या कर दी और फिर शव को गोदडी मे लपेट कर जलाने का प्रयास किया। उसके बाद लाश को बोरे मे भरकर वही छोडकर भाग गया ।

एस पी कृष्णा वेणी देसावतु के निर्देशन मे ASP नीरज चौरसिया, SDOP ब्रजेश सिह कुशवाह , टी आई जयराम चौहान तथा स्टाफ ने सक्रियता दिखाते हुए अन्धे कत्ल का 4 दिन मे पर्दा फाश कर धारा 302 का प्रकरण किया । गिरफ्तारी के बाद घटना स्थल के पास से झाडीयो से हत्या का हथियार कुल्हाड़ी बरामद की गई ।