सोयाबीन की खराब हुई फसलों को लेकर देवास में कांग्रेस ने निकाली रैली, कलेक्टर कार्यालय पर हंगामा कर सौंपा ज्ञापन

शुक्रवार को देवास (dewas) में पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने किसान और कांग्रेसियों के साथ मिलकर रैली निकाली और हाथो में खराब फसलो को लेकर कलेक्टर कार्यालय पहुँचे।

Congress took out a rally regarding the damaged soybean crops

देवास, अमिताभ शुक्ला। मालवा सहित अन्य जगहों पर जिस तरह से सोयाबीन की फसल (soybean crop) खराब हुई है। उसके बाद विपक्ष किसानों के साथ मिलकर सड़कों पर उतरता हुआ दिखाई दे रहा है। और इसी कड़ी में शुक्रवार को देवास (dewas) में पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने किसान और कांग्रेसियों के साथ मिलकर रैली निकाली और हाथो में खराब फसलो को लेकर कलेक्टर कार्यालय पहुँचे। और वहां जमकर हंगामा किया। इस दौरान सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल भी मौके पर मौजूद रहा।

यह भी पढ़ें…BJP के राष्ट्रीय सचिव अरविंद मेनन ने 53 की उम्र में की शादी, सीएम शिवराज ने दी बधाई

जमकर की नारेबाजी
इस दौरान किसान और कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी भी की। ज्ञापन देने के लिए अंदर कलेक्टर कार्यालय में घुसने की ज़िद पर अड़े कांग्रेसियों को बाहर ही गेट पर रोका गया। जिसके कि बाद नाराज़ कांग्रेसी पूरी तरह से ही कलेक्ट्रेट कैंपस से बाहर आ गए और हंगामा शुरू कर दिया। जिसके बाद तहसीलदार पूनम तोमर ने सड़क पर बाहर आकर कांग्रेसियो से ज्ञापन लिया। कांग्रेसियो ने महामहिम राज्यपाल के नाम तहसीलदार पूनम तोमर को सौपें गए इस ज्ञापन के माध्यम से माँग की है कि सोयाबीन की खराब हुई फसलो का तुरन्त सर्वे करवाया जाए और किसानों को मुआवज़ा दिया जावे ।

सोयाबीन की खराब हुई फसलों को लेकर देवास में कांग्रेस ने निकाली रैली, कलेक्टर कार्यालय पर हंगामा कर सौंपा ज्ञापन

मिडिया से बातचीत के दौरान पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। मंत्री ने कहा कि किसानों की सोयाबीन फसले खराब हो रही है। अभी तक सर्वे के लिए टीम नही पहुँची है। पिछले साल का मुआवज़ा अभी तक किसानो को नहीं मिला है जो कि जल्द से जल्द दिया जाना चाहिए ।

ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कटाक्ष करते हुए बोले सज्जन सिंह वर्मा
केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और जनआशीर्वाद यात्रा पर निशाना साधते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि महंगाई चरम पर है। और ये आशीर्वाद मांगने निकले हो कि अगली बार कोई सरकार गिराना हो तो कौन सी तरकीब से गिराऊँ। वो आशीर्वाद मांगने निकले हो, वो शिक्षक जिसके लिए तुमने कांग्रेस की सरकार को बदनाम करने की कोशिश की थी। कांग्रेस ने उन शिक्षको का चयन कराया और जब उनको नौकरी देना थी तब सिंधिया जी ने पीठ में छुरा घोपा और सरकार गिराई। जब शिक्षक सड़क पर थे तो आपने कहा था कि शिक्षक भाईयो बहनो घबराना मत सिंधिया तुम्हारे लिए सड़क पर उतरेगा और 3 दिन पहले ही भाजपा सरकार ने उन शिक्षको को खूब लाठियाँ मारी।

यह भी पढ़ें…सोयाबीन की खराब हुई फसलों को लेकर देवास में कांग्रेस ने निकाली रैली, कलेक्टर कार्यालय पर हंगामा कर सौंपा ज्ञापन